रमजान के पवित्र महीने में दुआ है कि समाज में शांति, सद्भाव और प्रेम का माहौल बना रहे:सीएम

0
42

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से सभी धर्मों के प्रति आदर और सम्मान का भाव रखने का आह्वान करते हुए कहा कि रमजान के पवित्र महीने में उनकी यह दुआ है कि समाज में शांति, सद्भाव और प्रेम का माहौल बना रहे। श्री कुमार ने सोमवार को यहां 1- अणो मार्ग स्थित नेक संवाद में आयोजित दावत-ए-इफ्तार के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा, मैं सभी लोगों को शुभकामनायें देता हूं और हमारी यही दुआ है कि समाज में शांति, सद्भाव और प्रेम का माहौल रहे। सब लोग एक-दूसरे के प्रति सम्मान का भाव रखें।

किसी भी धर्म के मानने वाले हों, सभी धर्मों के प्रति आदर और सम्मान का भाव रखना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि रमजान के इस पवित्र महीने में यही उम्मीद की जाती है कि सबलोगों की दुआएं कबूल हों, प्रदेश की प्रगति हो और बाढ़ और सुखाड़ की स्थिति न हो। उन्होंने कहा कि मॉनसून से पहले ही आंधी, तूफान, वष्ा और कई प्रकार की स्थितियों को देखकर मॉनसून की अवधि को लेकर मन में संदेह होने लगता है कि कहीं वष्ा में विलम्ब न हो। उन्होंने कहा, हम तो यही दुआ करेंगे कि रमजान का यह असर हो कि सूखे और बाढ़ की स्थिति न हो तथा अच्छे से बरसात बीते।

यह भी पढ़े  भारतीय मुसलमानों का मो.अली जिन्ना से कोई रिश्ता नहीं :तारिक

श्री कुमार ने ‘‘नेक संवाद’ में पवित्र रमजान के अवसर पर रोजेदारों को दावत-ए-इफ्तार पर आमंत्रित किया, जिसमें बड़ी संख्या में शुभचिन्तक, रोजेदार एवं गणमान्य व्यक्तियों ने शिरकत की। इफ्तार से पूर्व हजरत सैयद शाह शमीम मोनमी ने रमजान एवं रोजे की महत्ता पर विस्तार से प्रकाश डाला और सामूहिक दुआ (प्रार्थना) की। इस दौरान मुख्यमंत्री सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों एवं प्रबुद्ध नागरिकों ने राज्य की तरक्की, प्रगति एवं आपसी भाईचारा एवं मोहब्बत के लिये खुदा-ए-ताला से दुआ की। इस अवसर पर बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, बिहार विधान परिषद के उप सभापति हारुन रशीद, उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, स्वास्य मंत्री मंगल पाण्डेय आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here