योगी आदित्यनाथ और मायावती पर चुनाव आयोग ने की बड़ी कार्रवाई, प्रचार से रोका

0
53

नेताओं के विवादित बोलों पर चुनाव आयोग ने सख्त रुख अपना लिया है। आयोग ने इस मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती पर कड़ी कार्रवाई की है। रिपोरट्स के मुताबिक, योगी आदित्यनाथ और मायावती को एक निश्चित अवधि के लिए चुनाव प्रचार से रोक दिया गया है। योगी आदित्यनाथ जहां 72 घंटों तक चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे, वहीं मायावती के लिए यह समय सीमा 48 घंटे तय की गई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, दोनों ही नेताओं पर यह प्रतिबंध 16 अप्रैल से लागू होगा। आपको बता दें कि जहां मायावती ने मुसलमानों से भारतीय जनता पार्टी को रोकने के लिए महागठबंधन को वोट देने की अपील की थी, वहीं योगी ने ‘अली बजरंग बली’ वाला बयान दिया था।

चुनाव आयोग के फैसले से स्‍पष्‍ट हो गया है कि उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ 16, 17 और 18 अप्रैल को कोई रैली नहीं कर पाएंगे. इसके अलावा मायावती 16 और 17 अप्रैल को कोई प्रचार नहीं कर पाएंगी.

यह भी पढ़े  जापान यात्रा से पटना लौटे मुख्यमंत्री, कहा पटना मेट्रो के डीपीआर व नालंदा विवि पर हुई र्चचा

सोमवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने धार्मिक और जातिगत आधार पर बयान देने वाले राजनेताओं के खिलाफ समुचित कार्रवाई न करने के लिए चुनाव आयोग की खिंचाई की थी. सुप्रीम कोर्ट ने पूछा था, आयोग ने इन नेताओं के खिलाफ क्‍या एक्‍शन लिया, इस पर आयोग ने कहा- हम सिर्फ एडवाइजरी जारी कर सकते हैं.

इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वो चुनाव आयोग के अधिकार क्षेत्र को लेकर विचार करेगा. सुनवाई मंगलवार को भी जारी रहेगी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here