यूपी: नो रेस्ट मोड में प्रियंका

0
116

मिशन उत्तर प्रदेश पर निकलीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कल दोपहर जयपुर से लौटने के बाद लखनऊ में बैठकों का दौर शुरू किया, जो आज सुबह करीब पांच बजे तक चला. मुलाकातों का दौर करीब 15 घंटे तक चला. उन्होंने लगभग 12 लोकसभा सीट के पार्टी नेताओं के साथ अलग-अलग बैठक की. दोनों महासचिव आज भी 12 सीटों के कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे.

बता दें कि 11 तारीख को दोपहर 1 बजे प्रियंका गांधी लखनऊ एयरपोर्ट से रोड शो शुरु हुआ था जो शाम 5.30 तक चला. जिसके बाद प्रियंका कांग्रेस दफ्तर पहुंची थी और वहां से शाम 7 बजे अपने पति रॉबर्ट वाड्रा से मुलाकात के लिये विशेष विमान से जयपुर रवाना हो गयी थीं. 12 फरवरी को सुबह वो पति रॉबर्ट वाड्रा को ईडी के दफ्तर छोड़कर 10.30 बजे जयपुर से निकली और दोपहर 12.30 पर लखनऊ एयरपोर्ट पहुंची उसके बाद करीब 1 बजे लखनऊ में कांग्रेस दफ्तर पहुंची.
दोपहर 1.15 पर बैठकों का सिलसिला शुरु हुआ जो सुबह 5.16 तक चला. इस बैठक में प्रियंका और सिंधिया ने 12 लोकसभा सीटों के लोगों से मुलाकात की.
कार्यकर्ताओं मुलाकात के बाद प्रियंका ने कहा कि यूपी के संसदीय इलाकों से बहुत कुछ सुनने को मिल रहा है, संगठन कैसे मजबूत होगा ये देखना है. प्रियंका गांधी ने पति रॉबर्ट वाड्रा से ईडी की लगातार पूछताछ पर कहा कि ये चीज चलती रहेंगी. मैं अपना काम कर रही हूं.

यह भी पढ़े  अमेठी में स्‍मृति के करीबी ग्राम प्रधान को बदमाशों ने मारी गोली, लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में मौत

पूर्वी उत्तर प्रदेश की कांग्रेस प्रभारी प्रियंका लखनऊ के चार दिन के दौरे पर हैं. कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका लखनऊ, मोहनलालगंज, प्रयागराज, अम्बेडकर नगर, सीतापुर, कौशाम्बी, फतेहपुर, बहराइच, फूलपुर और अयोध्या समेत 12 लोकसभा क्षेत्रों के वरिष्ठ नेताओं और पदाधिकारियों के साथ एक-एक कर बैठक की.

प्रियंका आज (बुधवार) और कल (गुरुवार) को भी अपने प्रभार वाले बाकी लोकसभा क्षेत्रों में भी पार्टी की स्थिति का जायजा लेंगी. पार्टी सूत्रों के मुताबिक प्रियंका इन बैठकों में हर लोकसभा क्षेत्र में पार्टी संगठन की स्थिति का जायजा ले रही हैं. प्रियंका की इन बैठकों को आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों और प्रत्याशियों के चयन के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

प्रियंका ने सोमवार को लखनऊ में एक रोडशो के जरिये अपने चुनाव अभियान की जोरदार शुरुआत की थी. इस दौरान उनके साथ उनके भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पार्टी के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे.

यह भी पढ़े  चुनाव नहीं लड़ेंगी डिंपल यादव

गौरतलब है कि प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश की 41 सीटों की जिम्मेदारी दी गयी है और राज्य के इस हिस्से में बीजेपी का खासा दबदबा माना जाता है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया को 39 सीटों की जिम्मेदारी दी गई है.

प्रियंका को जिन सीटों की जिम्मेदारी सौंपी गई है उनमें अमेठी और रायबरेली के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गढ़ कही जाने वाली गोरखपुर सीट भी शामिल है. गत 23 जनवरी को प्रियंका और सिंधिया को महासचिव नियुक्त करते हुए उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी गयी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here