मुझे सीबीआई जैसी साफ-सुथरी एजेंसी और न्यायालय पर है पूरा भरोसा:मंजू वर्मा

0
8
file photo

मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने कहा कि उनके पति के निदरेष हैं। यह बात साबित होने के बाद वह राजद नेता तेजस्वी यादव के खिलाफ मानहानि का मुकदमा करेंगी। मुजफ्फरपुर बालिका अल्पावास गृह यौन शोषण मामले को लेकर समाज कल्याण मंत्री पद से इस्तीफा देने वाली मंजू वर्मा ने न्यायालय और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) पर पूरा भरोसा जताते हुए बुधवार को कहा कि उनके पति निदरेष हैं। उन्होंने कहा कि निदरेष साबित होने के बाद वह नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव एवं पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करेंगी। श्रीमती वर्मा ने यहां अपने आवास पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस्तीफा सौंप दिया है। उन्होंने कहा कि उन्हें सीबीआई जैसी साफ-सुथरी एजेंसी और न्यायालय पर पूरा भरोसा है। उनके पति चंद्रशेखर वर्मा निदरेष हैं और जांच के बाद निदरेष साबित होंगे। उन्होंने कहा कि जो लोग उन्हें और उनके पति को इस मामले में निशाना बना रहे थे उनका उद्देश्य वैसे कुछ रसूखदार लोगों को बचाना है, जो लोग अल्पावास गृह में जाया करते थे। मंत्री ने कहा कि मामले की सीबीआई जांच के बाद जब उनके पति निदरेष साबित हो जाएंगे तो वह नेता प्रतिपक्ष श्री यादव एवं पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करेंगी। उन्होंने कहा कि वह किसी के दबाव में इस्तीफा नहीं दे रही हैं और न ही मुख्यमंत्री ने उन्हें त्यागपत्र देने के लिए कहा था। जिस तरह से मीडिया में उनके खिलाफ माहौल बनाया जा रहा था और नेता प्रतिपक्ष लगातार उनसे इस्तीफे की मांग कर रहे थे इसके कारण वह ठीक से काम नहीं कर पा रही थीं। इसी वजह से उन्होंने मंत्री पद छोड़ने का फैसला किया।

यह भी पढ़े  उद्घाटन की पूर्व संध्या पर हुआ धाराशाही हुआ बटेश्वरस्थान गंगा पंप नहर का बांध

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here