मुजफ्फरपुर SSP के ठिकानों पर पिछले 20 घंटे से छापेमारी जारी

0
29

बिहार के मुजफ्फरपुर के एसएसपी विवेक कुमार आय से अधिक संपत्ति मामले में फंस सकते हैं. अब तक की एसवीयू की कार्रवाई में कई अहम सबूत मिले हैं. ससुराल के लोग भी जांच के दायरे में आ गए हैं. मुजफ्फरपुर एसएसपी के खिलाफ सोमवार दोपहर करीब 1 बजे एसवीयू की छापेमारी शुरु हुई और अभी तक जारी है. पिछले करीब 20 घंटों से चल रही छापेमारी में एसएसपी के आवास से 6.25 लाख नकद, 5.5 लाख के गहने और संपत्ति से जुड़े पेपर के अलावा 45 हजार रुपये के पुराने नोट भी जब्त किये गए हैं. ससुराल में मोटी रकम (करीब 2 करोड़) के एफडी के करीब 100 कागज के साथ ही संदिग्ध कैश ट्रांसजैक्शन या लेन-देन से जुड़े पेपर मिले हैं. इनमें 21 लाख की एक एफडी एसएसपी की पत्नी के नाम भी है.

मुजफ्फरपुर के एसएसपी द्वारा अवैध तरीके से धन अर्जित करने की मिली शिकायत के बाद विशेष निगरानी यूनिट की कई टीमों ने सोमवार को एसएसपी विवेक कुमार के सकिंदरपुर स्थित आवास सहित पटना, दिल्ली और यूपी के अलावा उनके कई अन्य ठिकानों पर एक साथ छापामारी की। छापेमारी में छह लाख नकद, साढ़े पांच लाख के जेवरात, 45 हजार के पुराने नोट, सास-ससुर के नाम पर करोड़ो रुपये के ट्रांजेक्शन के कागजात मिले हैं। सोमवार को दोपहर विजिलेंस के आईजी रत्न संजय के नेतृत्व में तीन विभागीय वाहनों से पहुंची विशेष निगरानी यूनिट की कई टीमों ने एसएसपी विवेक कुमार के सकिंदरपुर स्थित सरकारी आवास पर छापेमारी की। दोपहर 12:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक चली छापेमारी में विवेक कुमार ने आवास से भारी संख्या में पुरानी करेंसी, बीमा और बैंक के कागजात के अलावा आय-व्यय संबधी कई कागजात मिले हैं, जिसे टीम के अधिकारियों ने जब्त कर लिया है। एसवीयू के अधिकारियों ने भारी संख्या में पुरानी करेंसी बरामद होने की पुष्टि है। विभागीय सूत्रों के अनुसार एसएसपी विवेक कुमार को काला धन छुपाकर रखने तथा भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ्तारी की भी संभावना जताई गई है। समाचार लिखे जाने तक विशेष निगरानी टीम के अधिकारी एसएसपी विवेक कुमार के आवास पर तैनात सभी सुरक्षा गाडरे को बाहर निकालकर आवास के भीतर के सभी लोगों का मोबाइल बंद कराकर और बीएमपी-1 के जवानों से आवास की चौतरफा नाकेबंदी कराकर छापेमारी कर रही थी। सूत्रों के अनुसार एसएसपी विवेक कुमार पर शराब माफियाओं से साठगांठ रखने, थाना बेचने, अवैध तरीके से अर्जित की गई संपत्ति छुपाकर रखने की शिकायतें मिली थीं। साथ ही कांटी प्रखंड के पानापुर में पदस्थापित एक दारोगा द्वारा गोली मारकर आत्महत्या कर लिए जाने के मामले के बाद एसएसपी विवेक कुमार विशेष निगरानी के राडार पर आ गये थे। पिछले एक सप्ताह से विशेष निगरानीके डीएसपी स्तर के एक अधिकारी यहां कैम्प कर एसएसपी की गतिविधियों और उनके कार्यकलापों पर नजर रख रहे थे। माना जा रहा है कि पानापुर ओपी के दारोगा संजय गौड़ द्वारा आत्महत्या किये जाने के बाद उनकी पत्नी ने एसएसपी विवेक कुमार पर कई आरोप लगाकर न्याय दिलाने की गुहार लगाई थी। उसी दिन से स्पेशल विजिलेंस ने विवेक कुमार को अपने रडार पर ले लिया था।

यह भी पढ़े  आज दो अक्तूबर, 2017 है गांधी अौर शास्त्री को देश कर रहा याद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here