मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के 15 वर्षों के कार्यों से प्रेरित होकर जदयू में शामिल हुए समाजसेवी नरेंद्र सिंह

0
39

बिहार के प्रसिद्ध समाजसेवी नरेंद्र सिंह ने आज पटना के श्रीकृष्‍ण मेमोरियल हॉल में आयोजित मिलन समारोह में जदयू की सदस्‍यता ले ली. जदयू के बिहार प्रदेश अध्‍यक्ष वशिष्‍ठ नारायण सिंह ने नरेंद्र सिंह के साथ-साथ नेहा सूर्यवंशी, बीरेंद्र कुमार सिंह, अनिरूद्ध कुमार उर्फ अनिल कुमार और लवकुश शर्मा को भी सदस्‍यता दिलायी. सदस्‍यता ग्रहण करने के बाद नरेंद्र सिंह ने जदयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सह बिहार मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार और प्रदेश अध्‍यक्ष वशिष्‍ठ नारायण सिंह का आभार किया.

नरेंद्र सिंह ने कहा कि अब तक वे एक व्‍यवसाय के साथ-साथ सामाजिक कार्यों में सक्रिय रहे हैं. बचपन से ही समाज के सभी वर्गों की सेवा करने की इच्‍छा रही है. लेकिन, आज यह पहला मौका है, जब किसी राजनीतिक पार्टी से जुड़े हैं. उन्‍होंने कहा कि वे मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के 15 वर्षों के कार्यों से प्रेरित हैं और यही वजह है कि उन्‍होंने सक्रिय राजनीति में कदम रखा और निर्णय लिया है कि वे नीतीश कुमार के जनहित के कार्यों में एक सिपाही की तरह सहयोग करेंगे. साथ ही सरकार की योजनाओं को गरीबों तक पहुंचायेंगे, चाहे वो सवर्ण गरीब हो या दलित.

यह भी पढ़े  सबके साथ घुलते-मिलते थे श्रीकृष्ण : आचार्य चंद्रभूषण

उन्होंने कहा, मास लेवल पर लोगों की सेवा करने के लिए कोई न कोई राजनीतिक दल के साथ जुड़ना जरूरी है, इसलिए नीतीश कुमार के मार्गदर्शन में काम करने के लिए राजनीति में शामिल हो रहे हैं. पहले बिहारी कहना अपमान समझा जाता था, मगर नीतीश कुमार की वजह से आज बिहारी कहलाना स्‍वाभिमान की बात है. चुनाव लड़ना या पद पाना उनका लक्ष्‍य नहीं है. वे नीतीश कुमार के आदेशों का पालन करेंगे.

वहीं, वशिष्‍ठ नारायण सिंह ने पार्टी में शामिल हुए लोगों का स्‍वागत करते हुए कहा कि मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्‍व में बिहार ने बदलाव देखा है. जदयू दूसरे अन्‍य पार्टियों से इसलिए अलग है कि हम राजनीति के साथ-साथ सामाजिक मुद्दों को साथ लेकर चलते हैं. जदयू की स्‍थापना नौजवानों का अहमद योगदान रहा है. आज पीढ़ी बदली, मगर पटना विवि के चुनाव में मोहित प्रकाश की जीत ने साबित कर दिया कि हमारी सोच युवाओं, छात्र-छात्राओं और नौजवानों से मिलती है.

यह भी पढ़े  अचानक राजद कार्यालय पहुंचे तेज प्रताप

वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि नरेंद्र सिंह ने पार्टी आने का सही फैसला किया है. हम उम्‍मीद करते हैं कि जदयू में शामिल सभी लोग पार्टी की नीति, योजना, सिद्धांत, झंडा और कार्यक्रम को आगे बढ़ायेंगे.

मिलन समारोह में जदयू सांसद आरसीपी सिंह ने कहा कि नरेंद्र सिंह में क्षमता है. उन्‍होंने एक मुकाम हासिल तो कर लिया और अब राजनीति में आये हैं. उनका स्‍वागत है. यह देश की एकमात्र पार्टी है, जहां परिवारवाद नहीं चलता है. वरना देश की सबसे पुरानी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष पांचवी पीढ़ी के छठे व्‍यक्ति हैं और उनके सहयोगी के यहां तो 20 आदमी के बाद ही किसी दूसरे का नंबर आता है. लेकिन, नीतीश कुमार ने राजनीति में एक आदर्श स्‍थापित किया है.

उन्‍होंने कहा कि 10 प्रतिशत आरक्षण से समाज में मानसिक बदलाव आया है. हमारी पार्टी का लक्ष्‍य न्‍याय के साथ समेकित विकास है. सात निश्‍चय पर हमारा फोकस है. इससे समाज का भेदभाव मिट जायेगा. उन्‍होंने कहा कि पहले गांवों में बारूद गोली चलती थी, मगर हमारी सरकार ने गली बनायी है और जो गोली चल रही है, उससे जीवन बचाई जाती है.

यह भी पढ़े  साधना से प्राप्त होता है जीवन में सब कुछ

मंत्री ललन सिंह ने कहा कि नरेंद्र सिंह, नीतीश कुमार के कार्यों से प्रभावित होकर जदयू में आये हैं. नीतीश कुमार का एक सपना है कि बिहार ऐसा राज्‍य बने जो महाराष्‍ट्र और गुजरात के श्रेणी में खड़ा हो. हम आशा करते हैं कि नरेंद्र सिंह उनके सपनों को साकार करने में अपना सहयोग देंगे.

मिलन समारोह की शुरुआत राष्‍ट्रगान के साथ हुई. इसके बाद पुलवामा में शहीद जवनों को श्रद्धांजलि दी गयी. इसके बाद पटना विवि छात्र संघ के अध्‍यक्ष मोहित प्रकाश के स्‍वागत भाषण के साथ कार्यक्रम आगे बढ़ा, जहां विधान पार्षद नीरज कुमार और जदयू के मुख्‍य प्रवक्‍ता संजय सिंह ने समारोह को संबोधित किया. इस दौरान पूरा हॉल जदयू नेताओं और कार्यकर्ताओं से भरा था, जिन्‍होंने नरेंद्र सिंह के सदस्‍यता ग्रहण करने पर जोरदार स्‍वागत किया. समारोह का समापन मोहित प्रकाश के धन्‍यवाद ज्ञापन के साथ हो गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here