मुख्यमंत्री के हाथों सम्मानित हुए मेधावी

0
148

पटना – मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मेधा दिवस पर वार्षिक माध्यमिक एवं इंटरमीडिएट परीक्षा 2017 के स्वच्छ एवं कदाचार रहित परीक्षा के संचालन में सर्वश्रष्ठ योगदान देने वाले राज्य के 10 जिला क्रम से औरंगाबाद, कटिहार, कैमूर, गोपालगंज, जमुई, नालंदा, पटना, पश्चिम चंपारण, बेगूसराय, एवं मधेपुरा के जिलाधिकारियों को पुरस्कृत किया। मुख्यमंत्री ने वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2017 में उत्कृष्ट प्रदर्शन करनेवाले प्रथम से दस रैंक तक के छात्रों को भी पुरस्कृत किया। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी को 1 लाख रुपये, दूसरे स्थान प्राप्त करने वाले को 75 हजार रुपये और तीसरे स्थान प्राप्त करने वाले को 50 हजार रुपये के चेक के साथ-साथ एक लैपटॉप एवं किनडल इ रीडर प्रदान किया। चतुर्थ स्थान से दसवें स्थान तक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 10 हजार रुपये एवं लैपटॉप प्रदान किया। इंटरमीडिएट के कला संकाय, विज्ञान संकाय, वाणिज्य संकाय में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रथम 5 विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले परीक्षार्थी को 1 लाख रुपया, दूसरे स्थान प्राप्त करनेवाले को 75 हजार रुपया और तीसरे स्थान प्राप्त करनेवाले को 50 हजार रुपये के चेक के साथ-साथ एक लैपटॉप एवं किनडल इ रीडर प्रदान किया। चौथे एवं पांचवें स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 15 हजार रुपये एवं लैपटॉप प्रदान किया। इस अवसर पर शिक्षा मंत्री कृ़ष्णनंदन प्रसाद वर्मा, मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन,पटना के प्रमंडलीय आयुक्त सह अध्यक्ष बिहार विद्यालय परीक्षा समिति आनंद किशोर ने भी सभा को सम्बोधित किया। इस अवसर पर प्रख्यात शिक्षाविद प्रोफेसर एचके दीवान, शिक्षा विभाग के सचिव रोबर्ट चौन्ग्यू, शिक्षा विभाग के अपर सचिव मनोज कुमार, प्राथमिक शिक्षा के निदेशक रामचंदड्रू जी, माध्यमिक शिक्षा के निदेशक राजीव प्रसाद सिंह रंजन, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह, शिक्षा विभाग के अन्य पदाधिकारीगण एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

यह भी पढ़े  आगामी शैक्षणिक सत्र से यूएमआईएस लागू करें विवि : राज्यपाल

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here