मांझी की पार्टी ने अपने ही सरकार के खिलाफ दिया महाधरना

0
85

पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की पार्टी ने अपने ही सरकार के खिलाफ महाधरना दिया. जीतन राम मांझी की अगुआई में हम के कई बड़े नेता इस आयोजन में शामिल हुए.

एनडीए में शामिल होने के बावजूद नेताओं ने सरकार के विरोध में धरना दिया और नसीहत भी दी. मांझी ने कहा कि मेरे सीएम रहते कई योजनाओं को लागू किया गया था लेकिन अब उन्हें बंद कर दिया गया. मांझी ने कहा कि कई महत्वपूर्ण योजनाओं को बिहार की सरकार फिर से लागू करे.

उन्होंने कहा कि सरकार गरीबों की झोपड़ियों को बिना उसका वैकल्पिक उपाय किये ना उजाड़े सरकार. उन्होंने दलितों गरीबो को 5 डिसिमल जमीन देने साथ ही न्यायपालिका में दलितों को आरक्षण देने की बात भी कही. मांझी ने कहा कि हमें नीतीश सरकार पर भरोसा है लेकिन अगर नीतियां लागू नहीं हुईं तो आगे की योजना बनायी जायेंगी.

हम के प्रदेश अध्यक्ष वृषण पटेल भी सरकार पर बरसे. उन्होंने कहा कि बिहार में कैसा विकास हुआ है सब देख रहे हैं. उन्होंने कहा कि नीतीश यात्रा पर हैं और वो खुद से बखूबी देख रहे होंगे इस विकास को. पटेल ने कहा कि मांझी ने सीएम रहते कई फैसले लिये थे जिसे नीतीश ने सीएम बनते बदल दिया था.

यह भी पढ़े  दिशाविहीन हुई शिक्षा व्यवस्था : महाचंद्र

पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अजय यादव ने कहा कि कार्यकर्त्ता अब सड़क पर आ गए हैं. हम एनडीए के महत्वपूर्ण अंग हैं ऐसे में सरकार मांझी के फैसले को लागू करे. अगर सरकार ने फैसले को लागू नहीं किया तो कोई भी फैसला लेने के लिए हम स्वतंत्र होंगे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here