मांगों को लेकर माले ने किया प्रदर्शन

0
17
PATNA KARGIL MCHOWK PER APNI MANGON KE SAMARTHAN MEIN BHAKPA MALE KA D M KE SAMAKSH PERDERSHAN

पटना – भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी पटना महानगर के तत्वावधान में शुक्रवार को बिना वैकल्पिक व्यवस्था के गरीबों की झोपड़ियां उजाड़ना बंद करने समेत 16 सूत्री मांगों को लेकर पटना सदर कार्यालय पर लोगों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान पार्टी के दीघा अंचल परिषद, बांकीपुर अंचल परिषद, कुम्हरार अंचल परिषद एवं पटना साहिब अंचल परिषद के कार्यकर्ता शामिल हुए। प्रदर्शन के बाद संबंधित पदाधिकारी को मांगों का ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में मलिन बस्तियों में नियमित साफ-सफाई, शुद्ध पेयजल की आपूत्तर्ि, फुटपाथी दुकानदारों को रोजगार की गारंटी, पुलिस जुल्म पर रोक, चौक-चौराहों पर शौचालय एवं स्नानागार और शुद्ध जलापूर्ति, रैन बसेरे का निर्माण, घरेलू कामगारों को निबंधित कर पहचान पत्र और पेंशन देने, दुर्घटना मुआवजा, राशन-किरासन, स्वास्य सुविधा, बिहार भवन एवं सन्निमार्ग कर्मकार कल्याण बोर्ड में निबंधन की प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने, प्रखंड स्तरीय सत्यापन समिति में ट्रेड यूनियनों की भागीदारी, कल्याणकारी योजनाओं का लाभ देने, बिजली मूल्य वृद्धि वापस लेने, फर्जी बिजली बिल में सुधार आदि प्रमुख मांगें शामिल हैं। प्रदर्शन में पार्टी के सचिव प्रमोद कुमार नंदन, जितेन्द्र कुमार समेत अन्य लोग शामिल थे। 

अपनी 13 सूत्री मांगों को लेकर भाकपा- माले के बैनर तले शुक्रवार को लोगों ने कलेक्ट्रेट पर नीतीश सरकार और जिला प्रसाशन के खिलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि गरीबों को उनके हक की बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराने के प्रति सरकार लगातार लापरवाही का रवैया अपना रही है और पेयजल-शौचालय आदि जैसी बुनियादी सुविधा भी नहीं उपलब्ध करा रही है। प्रदर्शन के बाद एडीएम, लॉ एंड आर्डर ने माले नेता रणविजय कुमार, जितेंद्र प्रसाद, मुर्तजा अली, रामकल्याण सिंह के 5 सदस्यीय शिष्टमंडल से वार्ता की तथा राशन कार्ड ,पेयजल आदि उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। साथ ही जिलाधिकारी स्तर से जुड़ी मांगों की पूर्ति के लिये जिलाधिकारी से जल्द वार्ता कराने का भी आश्वासन दिया।ऐक्टू राज्य सचिव रणविजय कुमार, इंनौस राज्य सचिव नवीन कुमार, ऐपवा राज्य सह सचिव अनिता सिन्हा, माले नेता मुर्तजा अली, माले दीघा एरिया कमिटी सचिव जितेंद्र प्रसाद के नेतृत्व में कारगिल चौक से प्रदर्शन निकला जो जिलाधिकारी के कार्यालय तक गया ।प्रमुख मांगें1. दीघा रेल लाइन निर्माण के कारण लगभग 200 विस्थापित परिवारों को बसाए गए जमीन का पर्चा जिला प्रशासन द्वारा आश्वासन के 3 वर्ष बाद भी उपलब्ध नहीं कराने व बुनियादी सुविधा बहाल करना2. 70 वर्षो से बसे बेउर मुशहरी के दलित-गरीब मांझी परिवारों को जमीन का पर्चा देने3.आशियाना मोड़ पर बसे मांझी परिवारों के जर्जर हो चुके रैन बसेरा भवन की मरम्मत कराने4. आशियाना स्थित भोला पासवान शास्त्री भवन व आशियाना मोड़ के निकट बसे दलित परिवारों के गरीबों को शौचालय5.जर्जर हो चुके रैन बसेरा भवन की मरम्मत6. शेखपुरा रैन बसेरा में पेयजल7. शौचालय आदि बुनियादी सुविधा देने8. गर्दनीबाग में सरकारी क्वार्टर के गिर्द बसे सैकड़ों गरीबों को बसाने की वैकल्पिक व्यवस्था करने व इसके 220 एकड़ जमीन के एक हिस्से के भूखण्ड पर गरीबों को आवास व दुकान बना कर देने9. उक्त सभी के लिये तथा पटना नगर निगम क्षेत्र की झुग्गियों मलिन बस्तियों में वर्षो से बसे दलित-महादलित व गरीब परिवारों को राशन कार्ड मुहैया कराने11.12 से 22 महीना से बकाया वृद्धा पेंशन का भुगतान अविलम्ब करने, बसी हुई जमीन का पर्चा देने12. प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना से आच्छादित करने13. पेयजल-शौचालय-राशन कार्ड, साफ सफाई मुहैया कराना।

यह भी पढ़े  गिरिराज सिंह सहित 33 लोगों के खिलाफ जमीन फर्जीवाड़े में प्राथमिकी दर्ज ,तेजस्वी ने नीतीश पर बोला हमला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here