महिला सशक्त होगी तभी देश बनाएगा कीर्तिमान : राधामोहन

0
164

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा कृषि षि एवं किसान कल्याण और महिला सशक्तीकरण के लिए अनेक योजनाएं लागू की गई है। उन्होंने कहा कि देश तभी विकास के .तिमान स्थापित करेगा जब महिलायें सशक्त होंगी।आज देश की सीमा से लेकर जल,नभ और थल में महिलाओं की दखलंदाजी मजबूती से हुई है।जीवन का कोई ऐसा क्षेत्र नहीं है जिस में महिलाओं ने अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज नहीं कराई है। उन्होंने कहा कि 2022 तक हिंदुस्तान दुनिया का सिरमौर होगा और पूरी दुनिया से ताकतवर बनेगा। 25 सौ करोड़ की लागत से कई सड़को का शिलान्यास कल केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी करेंगे। यहां तक की मोतिहारी के इंट्री पॉइंट पर द्वार बनेगा जहां गाँधी की प्रतिमा भी लगाई जाएगी। मौके पर उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने सत्याग्रह की भूमि को नमन करते हुए कहा कि यही वह धरती है जहां से महात्मा गांधी ने किसानों के अधिकार की लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाया और आज केंद्रीय कृषि मंत्री ने किसानों के कल्याण के लिए अनेक महत्वपूर्ण योजनाओं को गति प्रदान कर रहे हैं। किसानों की आमदनी को दोगुनी करने के लिए समेकित कृषि को प्रोत्साहित कर के केंद्रीय कृषि मंत्री ने किसानों को सशक्त करने का ऐतिहासिक कार्य किया है। मौके पर मुजफ्फरपुर निवासी पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित किसान चाची राजकुमारी देवी ने कहा कि पहले की सरकार ने बड़े बड़े किसानों का कर्ज माफ हुआ लेकिन मैं मोदी जी का धन्यवाद करती हूं जिनके कारण हम किसानों को मजबूती मिली है।जब मोदी जी हम किसानों के लिए दिन रात सोच रहे हैं इसलिए अब हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम मोदी जी के लिए सोचें। कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री बिहार सरकार, प्रमोद कुमार,सहकारिता मंत्री,बिहार सरकार राणा रणधीर सिंह,बेतिया सांसद डॉ0संजय जायसवाल,विधायक कल्याणपुर सचिन्द्र सिंह,विधायक पीपरा श्यामबाबू यादव,विधान पार्षद बबलू गुप्ता, कुलपति राजेन्द्र कृषि विविद्यालय,पूसा आर0सी0 श्रीवास्तव, मुख्य पार्षद नगर परिषद अंजू देवी, अध्यक्ष जिला परिषद प्रियंका जायसवाल,अध्यक्ष किसान क्लब राजेन्द्र गुप्ता,पूर्व विधायक कृष्णनंदन पासवान,पूर्व विधायक पवन जायसवाल,पूर्व विधान पार्षद रामजी शर्मा के साथ आजिविका शहरी मिशन एवं जीविका दीदियों की महत्वपूर्ण सहभागिता रही। गौरतलब है कि इस कृषि कुम्भ में कृषि से जुड़ी प्रदर्शनियों का आयोजन भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के विभिन्न संस्थानों, कृषि विविद्यालयों,राज्य सरकारों के अंतर्गत कृषि से जुड़े विभागों, विपणन एजेंसियों, गैर-सरकारी संगठनों इत्यादि द्वारा किया गया है। इस कृषि कुम्भ में देशभर के वैज्ञानिक एवं पूर्वी भारत के किसानों बड़ी संख्या में प्रतिदिन भाग ले रहे हैं।

यह भी पढ़े  सभी जेल व कोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुविधा:उपमुख्यमंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here