भोजपुरी का विकास तभी जब बच्चे सीखेंगे यह भाषा:मॉरीशस के उच्चायुक्त

0
19
Patna-Dec.26,2018-Mauritius High Commissioner Jagdishwar Govardhan is releasing books at Bharatiya Nritya Kala Mandir in Patna, organized by Bhojpuri Sahityangan.

ललित कला अकादमी बहूद्देश्यीय सांस्कृतिक परिसर (भारतीय नृत्य कला मंदिर), फ्रेजर रोड में मॉरीशस के उच्चायुक्त जगदीश्वर गोवर्धन के सम्मान में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर प्राथमिक विद्यालय के विद्यार्थियों के लिए भोजपुरी भाषा की एक पुस्तक प्राथमिक भोजपुरी पाठय़ पुस्तकमाला का विमोचन किया गया। इंडियन डायस्पोरा एंड र्वल्ड भोजपुरी सेंटर, र्वल्ड भोजपुरी इंस्टीटय़ूट एवं आर्ट एंड कल्चर ट्रस्ट ऑफ इण्डिया के सहयोग से यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस पुस्तक को उच्चायुक्त ने प्राथमिक स्तर के बच्चों को उनकी मातृभाषा भोजपुरी सिखाने के लिए मॉरीशस की टीम द्वारा तैयार करवाया गया। भोजपुरी भाषा के उत्थान के लिए वे कटिबद्ध हैं और मॉरीशस से लेकर भारत तक उन्होंने इसके लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया है। वे भोजपुरी क्षेत्र में घूम-घूम कर मातृभाषा के प्रति जागरूकता फैला रहे हैं। उन्हें यह आश्र्चय होता है कि जब मॉरीशस भोजपुरी के लिए इतना कुछ कर सकता है तो भोजपुरी के मूल क्षेत्र में अपनी ही मातृभाषा के प्रति इतनी उदासीनता और हीनत्व-बोध क्यों है। उनका कहना है कि जबतक हमलोग छोटे-छोटे बच्चों को भोजपुरी नहीं सिखाएंगे भोजपुरी का विकास नहीं होगा। दुनिया की कोई संस्कृति और सभ्यता बिना मातृभाषा के अपने को बचा नहीं सकती और न विकास कर सकती है। इस अवसर पर कृष्णनंदन वर्मा, शिक्षा मंत्री, रत्ना पुरकायस्थ, दूरदर्शन प्रोग्रामिंग हेड, शूलपाणि सिंह, उपाध्यक्ष, आर्ट एंड कल्चरल ट्रस्ट ऑफ इण्डिया, रंजन प्रकाश, सचिव भोजपुरी साहित्यांगन, रंजन विकास, अध्यक्ष भोजपुरी साहित्यांगन एवं अन्य गणमान्य लोगों के अलावा बड़ी संख्या में प्राथमिक स्तर के विद्यार्थी और शिक्षक मौजूद थे।

यह भी पढ़े  सूबे में एनडीए की गेंद रामविलास व उपेन्द्र के पाले में

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here