भीषण ठंड ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड, अधिकतम 13.6

0
8

पटना। राजधानी समेत पूरे बिहार में पिछले तीन सप्ताह से जारी भीषण शीतलहर ने बुधवार को दस वर्षो का रिकार्ड तोड़ दिया। राजधानी के अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान के बीच का फासला छह डिग्री सेल्सियस तक सिमट आया। अधिकतम तापमान जहां 13.6 डिग्री रहा वहीं न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बुधवार को लोगों को एक पल के लिए भी ठंड से राहत नहीं मिली। दूसरी ओर, भीषण कुहासा की वजह से दृश्यता पचास मीटर से भी कम पहुंच गई। इससे यातायात व्यवस्था पर ठप्प होने की स्थिति पैदा हो गई। घना कोहरा और तेज ठंडी हवा से लोगों का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया है। बुधवार को यहां का न्यूनतम तथा अधिकतम तापमान सामान्य से काफी नीचे बना रहा। राजधानी में पूरे दिन एक पल के लिए भी न तो धूप निकली और न ही ठंडी हवा की रफ्तार कम हुई। तेज ठंडी हवा की वजह से ज्यादातर लोग अपने घरों में दुबके रहे। दिनभर बाजार में सन्नाटा पसरा रहा तथा आम दिनों की ठंड में गाड़ियों से पटी रहने वाली सड़कें भी सुनसान दिखीं। मौसम विभाग के मुताबिक जनवरी में अधिकतम तापमान पिछले दस वर्षो में सबसे कम दर्ज किया गया। इन दिनों जितना न्यूनतम तापमान होना चाहिए, उतना अधिकतम तापमान दर्ज किया जा रहा है। बुधवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 13.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से भी आठ डिग्री सेल्सियस कम है। इसी तरह, अधिकतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से भी दो डिग्री सेल्सियस कम है। कोहरा के कारण राज्य के विभिन्न हिस्सों में दृश्यता पचास मीटर से भी कम हो गई। सुबह आठ बजे तक घना कोहरा की वजह से दस मीटर की दूरी भी स्पष्ट रूप से नहीं दिख रही थी। मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में कहा है कि आने वाले एक सप्ताह तकें शीतलहर का प्रकोप बना रहेगा तथा कोहरे से भी राहत की उम्मीद नहीं है। राजधानी के साथ ही साथ सूबे के अन्य शहरों की भी यही स्थिति बनी रही। बुधवार को भागलपुर का अधिकतम तापमान 14.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से आठ डिग्री सेल्सियस कम है, जबकि न्यूनतम तापमान 5.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसी तरह, गया का अधिकतम तापमान 20.4 तथा न्यूनतम तापमान 5.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

यह भी पढ़े  गुजरात में एक बार फिर BJP सरकार के आसार,हिमाचल में भी बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिलने की संभावना

अगले तीन दिन तक बिहार में जारी रहेगा हाड़ कंपाती ठंड का सितम

बिहार में लोगों को फिलहाल ठंड से राहत नहीं मिलेगी. मौसम विभाग ने गुरूवार को जो पूर्वानुमान जताया है उसके मुताबिक अगले तीन दिनों तक बिहार में ठंड में कोई कमी नहीं होगी. पटना स्थित मौसम विभाग ने तीन दिनों तक शीतलहर और कुहरे की आशंका जतायी है.

बिहार के उत्तरी हिस्से यानी नॉर्थ बिहार में कोल्ड डे की स्थिति उत्पन्न रहेगी. इसके अलावा पटना, भागलपुर, पूर्णिया, मुजफ्फरपुर, सुपौल, छपरा, फारबिसगंज, दरभंगा में भी कल कोल्ड डे रहेगा लेकिन
अधिकतम तापमान में गिरावट होगी. मौसम विभाग ने बिहार में 16 जनवरी तक बारिश की कोई संभावना नहीं जताई है.

बिहार में पड़ रही कड़ाके की ठंड का मुख्य कारण हिमालय रीजन में हो रही बर्फबारी को माना जा रहा है, जिसकी वजह से ठंड में वृद्धि हो रही है. इस सीजन के ठंड में अधिकतम तापमान ने पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है. पटना का अधिकतम तापमान 13.6 जबकि  पूर्णिया में अधितम तापमान 13.2 पर पहुंचा है.

यह भी पढ़े  आठ अप्रैल को गांधी मैदान में ‘‘हम’ की होगी रैली : मांझी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here