भाजपा नेताओं ने की एबीवीपी कार्यालय में छापेमारी की निंदा

0
116

भारतीय जनता पार्टी के विधान पार्षद डा. संजय पासवान और विधायक अरुण सिन्हा, नितिन नबीन एवं डॉ.संजीव चौरसिया ने संयुक्त प्रेस बयान जारी कर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के कार्यालय पर पुलिस-प्रशासन के द्वारा की गयी छापेमारी की निंदा की है। इन नेताओं ने कहा है कि कई दलों के द्वारा बाहर से अपराधी किस्म के लोगों को कैम्पस में बुलाकर माहौल को खराब करने की कोशिश की जा रही है। भाजपा नेताओं ने कहा कि यही नहीं, ये शातिर लोग बाहरी लोगों के माध्यम से नाटकीय तौर पर घटना को अंजाम देकर उसे आपराधिक रंग दे रहे हैं जिसके सहारे एबीवीपी उम्मीदवारों की न सिर्फ छवि धूमिल करने की कोशिश की जा रही है बल्कि उन्हें परेशान भी किया जा रहा है। पुलिस प्रशासन के माध्यम से एबीवीपी उम्मीदवारों व समर्थक छात्रों को दबिश देकरआतंकित किया जा रहा है ताकि वे प्रचार भी नहीं कर सकें और चुनावी प्रक्रिया से बाहर हो जाएं। भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने कहा कि कुछ मीडिया, एडवरटाइजिंग एवं इवेंट मैनेजर किस्म के लोगों की प्रोफेशनल सेवा लेकर छात्रसंघ चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास किया जा रहा है, इस हास्यास्पद पहलू से किसी को ऐतराज नहीं है लेकिन जिस तरीके से पटना विवविद्यालय छात्रसंघ चुनाव को प्रदूषित किया जा रहा है वह बिहार की छात्र राजनीति के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। छात्रसंघ का चुनाव छात्रों का चुनाव है और इसमें बाहरी हस्तक्षेप कर इसकी मर्यादा को भंग करने की मंशा दुखद है। पटना विविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में कुछ उम्मीदवारों के द्वारा धनबल- बाहुबल का दुरुपयोग घोर निंदनीय एवं शर्मनाक है।

यह भी पढ़े  बिहार में विपक्षी दलों ने बजट को जुमलेबाजी करार दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here