भागलपुर के चंपानगर में उपद्रव, दो पक्ष भिड़े, एक घंटे तक पथराव, तोड़फोड़

0
23

भागलपुर के नाथनगर थाना क्षेत्र में तनाव को देखते हुए 17 स्थानों पर मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस बल की तैनाती की गई है। डीएम और एसएसपी ने इसे लेकर संयुक्त आदेश जारी किया है।

विधि-व्यवस्था को बनाये रखने के लिए सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था की गई है। नरगा चौक, महाशय ड्योढ़ी, बजरंगबली चौक, मसकन बरारी चौक, मस्जिद गली मिरग्यासचक, मछली पट्टी गली मसकन, मिरग्यासचक चौक, रमजानी फकीर लेन, डॉ. हुसैन बक्श लेन, मखदुम साह दरगाह, लेन, लक्खीकांत आचार्य लेन गली, विषहरी स्थान, टोली लेन, ठाकुरबाड़ी चौक, तांती बाजार रोड और नाथनगर थाना क्षेत्र में मजिस्ट्रेट, एक पुलिस पदाधिकारी और चार सिपाही की प्रतिनियुक्ति की गयी है। इसके अलावा शहरी क्षेत्र के लिए एक मजिस्ट्रेट और पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गयी है। शहरी क्षेत्र में मजिस्ट्रेट और सुरक्षाकर्मी भ्रमण कर स्थिति का जायजा लेंगे।  पूरे क्षेत्र की निगरानी की जिम्मेदारी एडीएम और पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय को सौंपी गयी है।

प्रक्षेत्रीय रिजर्व दंगा पार्टी को सीटीएस नाथनगर में अगले आदेश तक कैंप करने का निर्देश दिया गया है। अगले आदेश तक के लिए सीटीएस में अग्निशमन दस्ते की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश दिया गया है। जिले के वरीय पदाधिकारी भी नियमित रूप से नाथनगर क्षेत्र का भ्रमण करेंगे।

यह भी पढ़े  छात्र संघ चुनाव में राजद देगा प्रत्याशी : तेज प्रताप

मुख्यालय को भेजी गयी रिपोर्ट
नाथनगर थाना क्षेत्र में हुए विवाद के बाद मुख्यालय जिला प्रशासन से स्थिति की लगातार जानकारी ले रहा है। घटना के बाद जिला प्रशासन ने मुख्यालय को रिपोर्ट भेज दी है। डीएम ने बताया कि मामूली बात को लेकर विवाद हुआ था। स्थिति शांतिपूर्ण है। पूरी जानकारी मुख्यालय को भेज दी गयी है। डीएम ने लोगों से संयम बरतने की अपील की। डीएम ने कहा कि बच्चों की लड़ाई को पक्ष में नहीं बांटना चाहिए। इससे समाज की शांति ही नहीं विकास भी बाधित होता है। समाज के लोगों की जिम्मेदारी बनती है कि माहौल को बिगड़ने नहीं दें। नाथनगर में दो बच्चों के बीच विवाद का मामला था, लेकिन कुछ लोगों ने विवाद को तूल दे दिया है। वैसे लोगों की पहचान की जा रही है, जिनके चलते अक्सर दो पक्षों के बीच विवाद हो रहा है। ऐसे अवांछनीय तत्वों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़े  भरा हर्ष वन के मन, नवोत्कर्ष छाया... सखि, वसंत आया!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here