बेटी की शिक्षा के प्रति यह सरकार कटिबद्ध है:मुख्यमंत्री

0
45

बांका जिले के बेलहर स्थित झामा मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बेटी की शिक्षा के प्रति यह सरकार कटिबद्ध है. आगामी 20 अप्रैल से सभी पंचायतों में 12वीं की शिक्षा शुरू कर दी जायेगी. इसके लिए उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का निर्माण अंतिम चरण में है. अब तक छह हजार विद्यालयों का निर्माण हो चुका है. 20 अप्रैल से पहले सभी पंचायतों में उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की सुविधा बहाल कर दी जायेगी. यहां नौंवी में प्रवेश लेकर 12वीं तक की शिक्षा ली जा सकेगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा के प्रति यह सरकार हमेशा से संकल्पित रही है. पोशाक और साइकिल जैसी योजनाओं से विद्यालय में उपस्थिति बढ़ी है. उनका कोई निजी स्वार्थ नहीं है. लेकिन, कुछ लोग अपना प्रचार करते हैं. मुख्यमंत्री प्रखंड मुख्यालय स्थित शहीद झामा मैदान में शुक्रवार को जेडीयू प्रत्याशी लालधारी यादव के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनका एक ही उद्देश्य न्याय के साथ विकास है. इस नीति के साथ काम किया जा रहा है. हर इलाके का विकास, समाज के हर तबके का विकास, महिलाओं का उत्थान, दलित पिछड़ी जातियों को विकास के रास्ते पर लाने का काम ही हमारी मुख्य प्राथमिकता हैं.

यह भी पढ़े  पुण्यतिथि पर याद किये गये अम्बेडकर राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने प्रतिमा पर माल्यार्पण कर दी श्रद्धंजलि

मुख्यमंत्री ने कहा कि 13-14 वर्षों से लोगों की सेवा करते आ रहे रहे हैं. महिलाओं को हर क्षेत्र में अधिकार देने का काम के तहत महिलाओं की जागृति लाने के लिए जीविका योजना चलायी गयी. इसमें 10 लाख जीविका संघ सहायता समूह बनाने का लक्ष्य रखा गया था. अब तक आठ लाख 50 हजार समूह बन चुका है. वर्ल्ड बैंक से पैसे लाकर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने का काम किया जा रहा है. साथ ही बिहार देश का पहला राज्य है, जिसमें पंचायती राज व्यवस्था में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण दिया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि शहर में पहले बिजली नहीं रहती थी. अब गांव-गांव के हर घर में बिजली है. हर घर बिजली और हर घर में जल का नल में यह राज्य काफी आगे है. अपने संबोधन के दौरान सीएम ने लोगों से एनडीए प्रत्याशी लालधारी यादव को मतदान देने की अपील की. इस मौके पर राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल, भवन निर्माण मंत्री अशोक सिंह, परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला, बांका के प्रभारी मंत्री रामसेवक सिंह, सांसद गिरधारी यादव, एमएलसी जावेद इकबाल, मनोज कुमार, विधायक मनीष कुमार, जनार्दन मांझी, मेवालाल चौधरी, जिला पार्षद अध्यक्ष सुनील कुमार सिंह, पूर्व विधायक सोनेलाल हेंब्रम, दामोदर रावत के अलावा अनेकों लोग उपस्थित थे. वही चुनावी सभा की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष बबलू सिंह ने किया. जबकि मंच का संचालन भाजपा जिला अध्यक्ष विकास सिंह ने किया.

यह भी पढ़े  राज्य में कई दूसरी जगहों पर भी सौर ऊर्जा संयंत्र लगाए जाएंगे : मुख्यमंत्री

महिला की मांग पर शराबबंदी

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं की मांग पर शराबबंदी की गयी. इसका बड़ा लाभ मिला है. आज बिहार में शराब से होनेवाली मृत्यु दर में काफी कमी आयी है. यही नहीं शराब छूटने से कई बीमारियां भी कम हुई है. कुछ लोगों की मंशा खराब है, जो शराबबंदी का विरोध करते हैं. लेकिन, शराबबंदी कानून को प्रभावी ढंग से बनाने के लिए उनकी सरकार संकल्पित है.

बांका उन्ययन सराहनीय कदम

मुख्यमंत्री ने शिक्षा पर अपने संबोधन के दौरान कहा कि बांका उन्नयन आज देश-विदेश में छाया हुआ है. जिस तरह डिजिटल स्क्रीन के तहत पाठ्यक्रम को पढ़ाया जा रहा है, वह काफी सराहनीय प्रयास है. बांका जिलाधिकारी कुंदन कुमार के इस पहल को अब सूबे में लागू कर दिया गया है. यह बांका के लिए गौरव की बात है कि यहां की शिक्षा नीति से सूबे के साथ अन्य देश-प्रदेश लाभान्वित होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here