बेगूसराय व मधुबनी में मेडिकल कॉलेज बनने का रास्ता साफ

0
126
Patna-Nov.16,2018-Bihar Chief Minister Nitish Kumar along with Deputy Chief Minister Sushil Kumar Modi is holding 5th meeting of Bihar Vikas Mission at Samwad, CM Secretariat in Patna.

राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में शुक्रवार को आठ एजेंडों पर मुहर लगी है। बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की। बैठक में बेगूसराय और मधुबनी में बनने वाले मेडिकल कॉलेज का रास्ता साफ हो गया। कॉलेजों के लिए जमीन देने की मंजूरी दे दी गयी। बेगूसराय में मेडिकल कॉलेज के लिए 20 एकड़ मुफ्त जमीन देने का फैसला लिया गया। स्वास्य विभाग को यह जमीन बेगूसराय स्थित बरौनी के असुरारी में दी जायेगी। वहीं, पटना के पालीगंज में उपकारा बनाने के लिए भी राशि आवंटित कर दी गयी। पालीगंज में जेल निर्माण के लिए 35 करोड़ कैबिनेट ने रिलीज किये हैं। कृषि सिंचाई योजना के लिए 12 करोड़ रुपये कैबिनेट ने स्वीकृति किये गये हैं। बैठक में बिहार विकास मिशन के लिए 85 करोड़ रुपये वित्तीय वर्ष 2018 -2019 के लिए स्वीकृति किये गये हैं।

मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत बेगूसराय व मधुबनी के झंझारपुर में खुलने वाले मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन की अड़चनें दूर हो गई हैं। शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कैबिनेट ने बेगूसराय में बियाडा की 20 एकड़ व झंझारपुर में अनुमंडल कार्यालय की 20 एकड़ जमीन को मेडिकल कॉलेजों को देने का निर्णय लिया। झंझारपुर में जमीन मुफ्त दी जाएगी। बेगूसराय में बियाडा की तय दरों पर जमीन मेडिकल कॉलेज को मिलेगी। बैठक के बाद पत्रकारों को कैबिनेट विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि जमीन की दर बियाडा तय करेगा।

यह भी पढ़े  सेवा करना मेरा दायित्व ,प्रेम व भाईचारे से होगा समाज का विकास : नीतीश

बिहार राज्य में स्थापित होनेवाले 9 नया मेडिकल कॉलेज व अस्पतालों कि सूची

राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल सीतामढ़ी,
राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल महुआ (वैशाली),
राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल,भोजपुर (आरा),
राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल, बेगूसराय
राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल, मधुबनी
राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल मधेपुरा
वर्द्धमान आयुर्विज्ञान संस्थान, पावापुरी
राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल, पुर्णिया
मेडिकल कॉलेज अस्पताल, छपरा
खबरों के अनुसार बिहार में 9 नए मेडिकल कॉलेज खुलेंगे जिसमें से चार मेडिकल कॉलेज की घोषणा पहले ही हो चुका है जबकि पांच मेडिकल कॉलेज की घोषणा सात निश्चय प्रोग्राम के तहत हुआ है ! पिछले विधानसभा चुनाव में महा गठबंधन ने सात निश्चय प्रोग्राम तय किया था जिसमे दो मधुबनी और बेगूसराय का आज घोषणा हुआ !

बिहार राज्य में पहले से 9 सरकारी मेडिकल कॉलेज हैं और चार प्राइवेट मेडिकल कॉलेज हैं जो मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त हैं ! आपको बता दूं कि पूरे भारतवर्ष में मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त 460 मेडिकल कॉलेज हैं जिनमें 64,185 एमबीबीएस की सीटें हैं ! अगर बिहार की 13 मेडिकल कॉलेजों को देखें तो पता चलता है कि पीएमसीएच में 150 सीट हैं बाकी मेडिकल कॉलेजों में 100 सीट हैं, इस तरह से बिहार में सिर्फ 1350 एमबीबीएस की सीटें हैं ! राष्ट्रीय औसत के अनुसार, बिहार राज्य की जनसंख्या के दृष्टि से 6000 से ज्यादा एमबीबीएस की सीटें होनी चाहिए ! अगर समय रहते यह नए मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार हो जाए तो 900 सीटें और बढ़ सकती हैं ! बिहार के कई अधिकारी कहते हैं कि जिन मेडिकल कॉलेज 100 सीट हैं उन मेडिकल कॉलेजों में सीटों की संख्या को बढ़ाकर 200 तक की जा सकती है ! इन सब को जोड़ कर देख ले तब पर भी यह आंकड़ा 6 हजार को पार नहीं कर रहा है !
बिहार राज्य में कुल 38 जिले हैं लेकिन मौजूदा समय में सिर्फ 11 जिलों में ही मेडिकल कॉलेज हैं और 9 जिलों में मेडिकल कॉलेज प्रस्तावित है जो भविष्य में बनेगा ! इस तरह से बिहार के 20 जिलों में मेडिकल कॉलेज हो जाएगा बाकी बचे 18 जिलों में से 9 जिलों को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत, जिला अस्पतालों का अपग्रेडेशन किया जा रहा है !

यह भी पढ़े  तेजस्वी यादव के सीएम उम्मीदवारी पर राजद कार्यकारिणी के सदस्यों ने एक मत से अपनी स्वीकृति दी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here