बेगूसराय में एडीएम तो पटना के दानापुर नगर परिषद के प्रधान लिपिक घुस लेते हुए गिरफ्तार..

0
200

बेगूसराय : भ्रष्टाचार की मिली शिकायत के बाद बेगूसराय के एडीएम ओम प्रकाश प्रसाद के आवास पर पटना की निगरानी की टीम ने शनिवार की सुबह छापेमारी की. एडीएम को रिश्वत लेते हुए निगरानी की टीम ने धर दबोचा है. बताया जाता है कि उनके आवास से निगरानी की टीम ने अवैध संपत्ति से जुड़े कागजात भी बरामद किये हैं.

जानकारी के मुताबिक, भ्रष्टाचार की मिली शिकायत के बाद राजधानी पटना से निगरानी की टीम बेगूसराय पहुंची. निगरानी की टीम ने शनिवार की सुबह एडीएम ओमप्रकाश प्रसाद के आवास पर छापेमारी की. साथ ही निगरानी की टीम ने एडीएम ओमप्रकाश प्रसाद को छह लाख रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है. साथ ही एडीएम आवास से नकदी, बैंक पासबुक सहित अवैध संपत्ति से जुड़े कागजात भी बरामद किये हैं. बताया जाता है कि निगरानी टीम की छापामारी की कार्रवाई अब भी चल रही है.

निगरानी के हत्थे चढ़ा दानापुर का रिश्वतखोर लिपिक

यह भी पढ़े  पाकिस्‍तान ने पहली बार माना यहीं है मसूद अजहर, बताया गंभीर रूप से बीमार

आज राज्य निगरानी विभाग ने दानापुर नगर परिषद के प्रधान लिपिक को एक लाख 67 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. जबकि प्रधान लिपिक उमा शंकर प्रसाद के पास से एक लाख 50 हजार रुपये नगद भी बरामद किया गया. बताया जा रहा है कि उमा शंकर रिश्वत के ये पैसे एक ठेकेदार से ले रहे थे.

घटना के संबंध में निगरानी विभाग ने बताया कि बेली रोड के एक पेट्रोल पम्प पर उन्हें रिश्वत दिया रहा था. तभी निगरानी की टीम ने उमा शंकर और एक दलाल रमा शंकर को गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद निगरानी विभाग की टीम ने दानापुर के नगर परिषद कार्यालय में छापेमारी की. वहां के प्रधान लिपिक के अलमीरा से 22 लाख 90 हजार नगद बरामद किया गया. ये पैसे अगल-अलग बोरों में अलमीरा में छुपा कर रखे गए थे.

निगरानी विभाग के के मुताबिक उमाशंकर इन पैसों का कोई लेखा-जोखा नहीं दे रहे हैं, निगरानी के डीएसपी जमीरउद्दीन के नेतृत्व में की गई इस छापेमारी में कई और दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं. डीएसपी ने बताया कि प्रधान लिपिक पर आय से अधिक संपति का मामला भी बनेगा और जांच की जाएगी.

यह भी पढ़े  हर पंद्रह दिन पर पंचायत में मनाया जायेगा आवास दिवस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here