बीजेपी संगठन महामंत्री नागेंद्र जी के खिलाफ लगाए गए पोस्टर

0
12
RSS के प्रचारक से बीजेपी के संगठन मंत्री बने नागेंद्र जी ने अकूत संपत्ति बना लिया. नागेंद्र जी न केवल खुद मालामाल हुए बल्कि अपने तथाकथित पीए विकास सिंह का भी वारा-न्यारा कर दिया. भाजपा के संगठन मंत्री पर ऐसे ही आरोप लगे हैं. आरोप ये भी है कि पैसे के चक्कर में नागेंद्र जी ने पार्टी का बंटाधार कर दिया है.
पटना में पोस्टर लगा कर आरोप लगाये गये
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे से ठीक पहले पटना के कई जगहों पर पोस्टर लगा कर ऐसे ही आरोप लगाये गये हैं. आरोप बेहद गंभीर हैं. पोस्टर में कई तस्वीरें लगायी हैं जिनमें नागेंद्र जी की खास अंतरगता विकास सिंह और उसकी पत्नी से झलक रही है. इन तस्वीरों में नागेंद्र जी विकास सिंह और उसकी पत्नी के साथ रेस्टूरेंट में खाते, जमीन पर बैठकर पूजा करते और दूसरी जगहों पर साथ खड़े दिख रहे हैं. तस्वीरें बता रही हैं कि नागेंद्र जी की विकास सिंह और उसकी पत्नी से काफी नजदीकी है.
क्या है आरोप
पोस्टर में नागेंद्र जी और उनके परिजनों के संपत्ति की जांच की मांग की गयी है. उसके साथ ही नागेंद्र जी के पीए विकास सिंह और उसकी पत्नी की संपत्ति की जांच की भी मांग की गयी है. पोस्टर लगाने वाले ने कहा है कि नागेंद्र जी बिहार से ज्यादा दूसरे प्रदेशों की यात्रा कर रहे हैं. इससे पहले वे उत्तर प्रदेश में बीजेपी के संगठन मंत्री थे और वहां उनके रहते पार्टी का बंटाधार हो गया था. इससे पहले कि नागेंद्र जी बिहार में भी पार्टी का बंटाधार कर दें, नेतृत्व से उन्हें हटाने की मांग की गयी है.
कौन हैं नागेंद्र जी
नागेंद्र जी मूलत: RSS के प्रचारक हैं. बीजेपी प्रदेश और केंद्रीय स्तर पर RSS के प्रचारकों को ही संगठन महामंत्री के पद पर नियुक्त करती है. पार्टी को चलाना संगठन महामंत्री का ही काम होता है. RSS और उसके सहयोगी संगठनों का भाजपा से तालमेल बनाये रखने का जिम्मा भी संगठन महामंत्री के ही हवाले होता है. नागेंद्र जी काफी अर्से से बिहार भाजपा के संगठन महामंत्री हैं. कहा जाता है कि बिहार बीजेपी में होता वही है जो नागेंद्र जी चाहते हैं. ऐसे में कई नेता उनसे खफा हैं. ऐसे ही नेताओं ने उनके खिलाफ पोस्टर लगाये हैं.
विकास सिंह कौन है
वैसे नागेंद्र जी पर लगे आरोप गंभीर हैं. विकास सिंह नाम के व्यक्ति के साथ उनकी निकटता जगजाहिर है. विकास सिंह को नागेंद्र जी का पीए बताया जाता है लेकिन पार्टी में संगठन महामंत्री के पीए जैसा कोई पद नहीं होता. RSS के प्रचारक को पीए रखने की इजाजत भी नहीं होती. लेकिन बीजेपी में चर्चा यही है कि नागेंद्र जी वही करते हैं जो विकास सिंह चाहता है. न्यूज फॉर नेशन ने इस बारे में विकास सिंह से बात की को उन्होंने तमाम आरोपों को गलत करार दिया. विकास सिंह ने कहा कि विपक्षी दलों ने लोगों ने ऐसी साजिश की है. नागेंद्र जी के चरित्र पर सवाल उठाया नहीं जा सकता
यह भी पढ़े  हमारा देश गुलाम है देश फिरंगियों के हाथ में है इसको आजाद कराना होगा :तेज प्रताप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here