बिहार समीक्षा यात्रा : विकास तभी साकार होगा जब हम कुरीतियां मिटायेंगे : नीतीश कुमार

0
96
मोतिहारी : सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि सूबे में विकास के काम हो रहे हैं, लेकिन यह विकास तभी साकार होगा, जब हमलोग मिलकर सामाजिक कुरीतियां मिटायेंगे. इसके लिए आप सभी लोगों को संकल्प लेना होगा-हम दहेज का लेन-देन नहीं करेंगे, बेटे-बेटियों का बाल-विवाह नहीं करेंगे. आपके सहयोग से ही बिहार विकास में अव्वल होगा. यह सामाजिक जागरूकता का काम है. वह बुधवार को चकिया के महुआवा पंचायत स्थित बलवा कोठी ग्राउंड में आयोजित समीक्षा यात्रा के दूसरे दिन सभा को संबोधित कर रहे थे.
मुख्यमंत्री के कहने पर हजारों लोगों ने अपना हाथ उठा कर कुरीतियां मिटाने में अपनी सहभागिता दिखायी. सीएम ने कहा, आप लोगों ने सूर्य के सामने अपना हाथ उठाया है, याद रखिएगा. इससे पहले सीएम ने 229 करोड़ की 213 योजनाओं का शिलान्यास और 67 करोड़ की 81 योजनाओं का उद्घाटन किया.
सीएम योजनाओं का शिलापट्ट देख कर कहा, इतनी योजनाओं को एक साथ देख कर खुशी हो रही है. विकास यात्रा के दौरान 2009 में लोगों ने जो मांगे रखी थीं, वे पूरी हो रही हैं. उस दौरान मैं यहीं टेंट में रुका था. चाहता तो किसी के यहां रुक जाता, लेकिन मुझे गांवों का हाल जानना था. मेरे अलावा अधिकारियों की टीम भी टेंट में रही. वे गांव की समस्याओं से अवगत हुए. हर घर में नल, शौचालय, बिजली, पक्की सड़क व नाले का विकास सरकार का निश्चय है.
उसे पूरा किया जा रहा है. गांधी कहते थे कि गांव का जब तक विकास नहीं होगा, सही मायने में विकास नहीं कहा जा सकता. हम गांधी की कर्मभूमि चंपारण से गांवों का विकास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि शौचालय बन भी जाए, लेकिन उसका उपयोग नहीं हो तो विकास का सपना पूरा नहीं हो सकता. आप लोग इसका ध्यान रखिएगा. अगर बीमारयों से बचना है, तो खुले में शौच की आदत छोड़ दें.
मानव शृंखला में शामिल हो, दुहराएं संकल्प
सीएम ने कहा कि इस साल 21 जनवरी को हमलोगों ने शराबबंदी के विरोध में मानव शृंखला बनायी थी. इसमें चार करोड़ लोग शामिल हुए थे. अगले साल 21 जनवरी को दहेज व बाल विवाह के विरोध में मानव शृंखला बनायी जा रही है. इस बार ग्रामीण सड़कों पर भी लोग खड़े होंगे. आप सभी अपने मजबूत इरादों का परिचय देते हुए इसमें अपनी भागीदारी दें.
सूबे में जो भी सामाजिक जागरूकता की बात हो रही है, उस पर पूरी दुनिया की नजर है. सभी धर्मों के लोग शराबबंदी, बाल विवाह व दहेज प्रथा के विरोध का समर्थन कर रहे हैं. एक नया बिहार बन रहा है. इस दौरान सभा स्थल की बैरिकेडिंग से बाहर कुछ लोगों ने चकिया व मोतिहारी की बंद चीनी मिली को खोले जाने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया.
सूचना पर कोताही बरतने वाले थानाें पर कार्रवाई
शराबबंदी के लिए महिलाओं का आभार प्रकट करते हुए सीएम ने कहा कि शराब कारोबार की सूचना पर थाना कार्रवाई नहीं करता तो मद्य निषेद्य महानिरीक्षक की टीम संबंधित थाने पर कार्रवाई करेगी.
अब प्रत्येक बिजली के खंभों पर बोर्ड लगाया जा रहा है, जिस पर पुलिस व मद्य निषेध विभाग के अधिकारी का मोबाइल नंबर होगा. आपकी शिकायत थाना नहीं सुनता है तो आप चिंता नहीं करें. पुलिस महानिरीक्षक की टीम आपकी शिकायत पर काम करेगी. उन्होंने कि सूबे में 12 करोड़ की आबादी है़  इसमें छह करोड़ से अधिक मोबाइल हैं. जहां भी गड़बड़ी देखें तुरंत फोन करें. अपने मन से यह ख्याल निकाल दें कि डेढ़ वर्ष हो गया, तो शराबबंदी पुरानी बात हो गयी.
बलवा कोठी गांव में खुलेगा एपीएचसी
सीएम ने बेलवा कोठी में एपीएचसी खोले जाने की भी घोषणा की. उन्होंने का कि गांव के लोगों ने मांग रखी थी. इसे पूरा किया जायेगा. उन्होंने स्थानीय विधायक श्यामबाबू यादव की मांग पर मेहसी में सेमराघाट पर पुल बनाने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि बेलवा झील पर आठ करोड़ 80 लाख की लागत से बन रहा पुल अगले साल तक पूरा हो जायेगा.
सावधानी हटी तो दुर्घटना का खतरा
सीएम ने तुरकौलिया प्रखंड में परशुराम स्टेडियम का उद्घाटन किया. यहां जीविका दीदियों को संबोधित करते हुए उन्होंने शराबबंदी पर ध्यान रखने को कहा. सीएम ने कहा कि हमेशा सावधान रखियेगा. बिहार में तरह-तरह के लोग हैं, जहां सावधानी हटी दुर्घटना होने का खतरा बना रहता है.
यह भी पढ़े  गणतंत्र दिवस पर होने वाले परेड का अंतिम पूर्वाभ्यास आज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here