बिहार में पैर पसार रहा है डेंगू, स्वास्थ्य मंत्री चुनाव में व्यस्त

0
13

पटना- बिहार को डेंगू ने अपने चपेट में ले लिया है. रोज नए मरीज सामने आ रहे हैं, वहीं स्वास्थ विभाग प्रतिदिन नए-नए दावे कर रहा है. बिहार के स्वास्थ मंत्री मंगल पाण्डेय को पार्टी के काम से फुर्सत नहीं है, लेकिन जब भी सवाल पूछा जाता है तो बड़े-बड़े दावे करते नहीं थकते हैं. वहीं विपक्ष अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से स्वास्थ्य मंत्री को हटाने की मांग कर रहा है.

जबसे बिहार में एनडीए की सरकार बनी है तबसे कुछ दिनों को छोड़कर बिहार के स्वास्थ मंत्री लगातार राज्य से बाहर हैं. बीजेपी ने उन्हें हिमाचल प्रदेश का प्रभारी बनाया है. वो लगातार पार्टी के लिए हिमाचल में डेरा जमाए हुए हैं. पिछले दिनों जब पूरा बिहार डेंगू की चपेट में आया तब भी वह बिहार नहीं आए.

बिहार में इस बार डेंगू के मरीजों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है. अभी तक 1631 मरीजों में डेंगू रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया है. अगर सिर्फ पटना की बात करें तो यहां 1190 मरीज पाए गए हैं.

बिहार के बाकी जिलों में भी डेंगू के मरीज मिले हैं. सारण में 19, समस्तीपुर में 14, शेखपुरा में दो, शिवहर में तीन, सीतामढी में 13, सीवान में नौ, सुपौल में दस, वैशाली में 28, पश्चिम चम्पारण में सात, अररिया में दो, अरवल में तीन मरीजों में डेंगू का रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया है.

इसके अलावा औरंगाबाद में 13, बेगुसराय में नौ, बांका में तीन, भागलपुर में 28, भोजपुर में 12, बक्सर में तीन, पूर्वी चम्पारण में आठ, गया में 40, गोपालगंज में चार, जमुई में 12, जहानाबाद में पांच, कटिहार में तीन, कैमुर में एक, खगड़िया में पांच, लखीसराय में नौ, मधेपुरा में चार, मधुबनी में पांच, मुंगेर मे 13, मुजफ्फरपुर में 33, नालंदा में 45, नवादा में 22, पुर्णिया में सात, रोहतास में चार और सहरसा में आठ मरीजों में डेंगू पॉजिटिव पाया गया है.

बिहार में लगातार मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है फिर भी स्वास्थ मंत्री का दावा कि वो सबकुछ ठीक कर चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्री के बयान के बाद आरजेडी उनका इस्तीफा मांग रही है. आरजेडी का आरोप है कि उनका बयान गैरजिम्मेदाराना है.​

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here