बिहार में कहीं नहीं है पेयजल संकट : मंत्री

0
108

लोक स्वास्य अभियंतण्रमंत्री विनोद नारायण झा ने कहा है कि राज्य में पेयजल संकट नहीं हैं। भू जल स्तर नीचे जाने के कारण पहले से जल संकट से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर ली गयी थी। सरकार का संकल्प है कि गर्मी के मौसम में राज्य के किसी भी इलाके में किसी भी परिस्थति में पानी की समस्या से आम लोगों को कठिनाई नहीं होने दी जायेगी। पेयजल की व्यवस्था के लिए सरकार द्वारा पूरी तैयारी की गयी है और पेयजल की समस्या के निराकारण हेतु त्वरित कार्रवाई की जा रही है।मंत्री श्री झा ने आज यहां कहा कि गर्मी के मौसम में हर साल राज्य के कुछ इलाकों में खासकर दक्षिण बिहार के कुछ जगहों पर पेयजल की समस्या होती रही है। विगत वर्ष में कम बारिश की वजह से इस वर्ष उत्तर बिहार के जिलों दरभंगा, समस्तीपुर, सारण, वैशाली आदि में भी पेयजल की समस्या उत्पन्न हुई है। पेयजल की समस्याओं के निराकरण के लिए विभाग द्वारा त्वरित कार्रवाई की जा रही है। पेयजल पर नजर रखने के लिए विभाग भू जल स्तर की नियमित मॉनेटरिंग कर रहा है।मंत्री ने कहा कि चापाकल की मरम्मत के लिए 402 मरम्मत दल तैनात हैं। 15,010 चापाकलों की मरम्मत करायी गयी है। इसके अतिरिक्त 10,094 आईएम (दो) पांप के साथ निर्मित चापाकलों में राईजर पाईप बदलकर उन्हें कार्यशील किया गया है। पेयजल संकट से निपटने के लिए 3440 चापाकलों का निर्माण कराया गया है। साथ ही 2192 नये चापाकलों के निर्माण की स्वीकृति विभाग द्वारा दी गयी है ताकि जहां कहीं भी पेयजल की समस्या की सूचना मिले तत्काल चापाकलों का निर्माण कराया जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य के 38 में से 20 के समस्याग्रस्त इलाकों में अभी 499 टैंकर के माध्यम से जलापूर्ति की जा रही है। इसके अतिरिक्त जहां कहीं भी आवश्यकता होने पर किराये के वाहन पर पीवीसी टैंक के माध्यम से जलापूर्ति की व्यवस्था की जा रही है। पशुओं के लिए भी पानी की व्यवस्था के लिए सरकार द्वारा कैटल ट्रफ का निर्माण कराया जा रहा है। चयनित 234 स्थानों में से 190 स्थानों पर कार्य पूर्ण कर जलापूर्ति शुरू कर दी गयी है। मंत्री के कहा कि पेयजल की समस्या से निपटने के लिए मुख्यालय और सभी जिलों में नियंतण्रकक्ष की स्थापना की गयी है। मुख्यालय स्तर के नियंतण्रकक्ष की दूरभाष संख्या 0612-2547222, 2547111, 2545739 और 2547171 है। इसके अतिरिक्त आम लोगों की शिकायत प्राप्त करने के लिए टॉल फ्री नंबर 18001231121 विभाग द्वारा जारी किया गया है। संवाददाता सम्मेलन में विभाग के सचिव जीतेंद्र श्रीवास्तव सहित अन्य पदाधिकारी भी मौजूद थे।

यह भी पढ़े  गांधी घाट पर लापता हुए युवकों की गंगा में तलाश जारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here