बिहार कैबिनेट की बैठक में 20 एजेंडों पर लगी मुहर

0
64
cabinet metting.

राज्यकर्मियों के लिए नया पे लेवल , चतुर्थवर्गीय शब्द हटा , अब तीन वर्ग A, B, और C कैटेगरी के होंगे कर्मचारी , IGIMS के फैकल्टी सदस्यों को AIIMS के अनुरूप वेतन ,नियोजित शिक्षकों का होगा बकाया वेतन भुगतान ,कुल 143 करोड़ राशि रिलीज ,पंचायत शिक्षक से लेकर नगर शिक्षक को मिलेगा लाभ , नालंदा के सरमेरा प्रखंड के प्रणावा श्री श्री 108 शरण निवास बाबा महतो साहब मेला को राजकीय दर्जा ,पथनिर्माण में संविदा पर बहाल 88 अभियंताओं का सेवा विस्तार ,PMCH में किडनी ट्रांसप्लांटेशन के 88 नये पद सृजित

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई बिहार कैबिनेट की बैठक में 20 महत्वपूर्ण एजेंडों पर मुहर लगायी गयी. साथ ही सूबे के नियोजित शिक्षकों के बकाये वेतन के भुगतान के लिए कुल 143 करोड़ राशि निर्गत करने को मंजूरी दी गयी.

कैबिनेट की बैठक के बाद कैबिनेट सचिव अरुण कुमार सिंह ने कहा कि राज्य कर्मियों के वेतन का पुनर्रीक्षण किया गया है. साथ ही राज्य के चतुर्थवर्गीय समूह को समाप्त कर दिया गया है. अब बिहार में सिर्फ तीन वर्गों में ही कर्मचारी बहाल होंगे. साथ ही पे-ग्रेड को खत्म कर पे-लेवल के आधार पर कर्मियों का वर्गीकरण होगा. इसके साथ ही बिहार में चपरासी या आदेशपाल जैसे शब्द खत्म हो गये. अब चपरासी और आदेशपाल की जगह कार्यालय परिचारी शब्द का प्रयोग किया जायेगा. कैबिनेट की बैठक में प्राथमिक और मध्य विद्यालयों के नियोजित शिक्षकों के वेतन भुगतान के लिए 14 अरब 36 करोड़ आठ लाख रुपये की स्वीकृति दी गयी.

 कैबिनेट की बैठक में स्वास्थ्य विभाग पर मुख्यमंत्री की खास नजर रही. आईजीआईएमएस की नर्सिंग फैकल्टी सदस्यों को एम्स के आधार पर वेतन देने का फैसला नीतीश कैबिनेट ने लिया है. इसके अलावा पीएमसीएच में किडनी ट्रांसप्लांट को शुरू करने के लिए नेफ्रॉलॉजी विभाग में 88 नये पद सृजृत करने पर मुहर लगायी गयी.
साथ ही राज्य सहकारी बैंकों को ब्याज दर नौ से घटा कर सात प्रतिशत कर दिया गया. वहीं, 24 ओपी थानों के निर्माण के लिए 37 करोड़ रुपये की स्वीकृति और 100 सहायक अभियंता के नियोजन को स्वीकृति प्रदान की गयी. किशनगंज में फिशरीज कॉलेज खोलने के लिए भी 40 करोड़ 31 लाख रुपये व्यय करने की स्वीकृति मिली है.
यह भी पढ़े  उपचुनाव: जहानाबाद से अभिराम होंगे जदयू प्रत्याशी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here