बिहार इस सत्र से खेलेगा रणजी ट्रॉफी के मैच

0
69
पटना : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) इस सत्र से बिहार टीम को रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट में शामिल करने पर राजी हो गया है. शुक्रवार को नयी दिल्ली में हुई बीसीसीआई की विशेष आम सभा में यह फैसला लिया गया.
इस बैठक में भाग लेने के बाद बिहार क्रिकेट संघ के सचिव गोपाल बोहरा और मीडिया कमेटी के चेयरमैन संजीव मिश्र ने बताया कि बिहार टीम को प्लेट ग्रुप में रखा जायेगा. इसमें नॉर्थ ईस्ट की टीमें भी रहेंगी. इससे पहले सीओए की बैठक में भी बिहार को ग्रुप डी में शामिल करने की बात रखी गयी थी.
 क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार के सचिव आदित्य वर्मा भी इस बैठक के बीच में पहुंचे और बिहार में एडहॉक कमेटी बनाने की मांग रखी. बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार क्रिकेट संघ का निबंधन सोसाइटी एक्ट रद्द है इसलिए वहां पर नयी कमेटी बनायी जाये.

मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने 12 मई को बिहार की क्रिकेट टीम का रणजी ट्रॉफी में खेलने का रास्ता साफ कर दिया था । बिहार की टीम 18 साल बाद इस प्रतिष्ठित घरेलू टूर्नामेंट में भाग लेगी। साथ ही बिहार अगले सत्र में बीसीसीआइ के अन्य टूर्नामेंटों में भी भाग लेगा। अगले सत्र की शुरुआत सितंबर से होगी, जबकि रणजी ट्रॉफी के मुकाबले छह अक्टूबर से खेले जाएंगे।

यह भी पढ़े  हैरान कर देने वाले खुलासे हो रहे बालिका गृह में हुए यौन उत्पीड़न मामले में

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्र, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति धनंजय वाई चंद्रचूड़ की तीन सदस्यीय खंडपीठ ने कोर्ट के पहले के आदेश पर अमल नहीं करने के कारण बीसीसीआइ के अधिकारियों के खिलाफ क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बिहार (कैब) की अवामनना याचिका पर सुनवाई की। चार जनवरी को सुप्रीम कोर्ट ने बिहार को रणजी समेत सभी टूर्नामेंट खेलने के लिए हरी झंडी दिखा दी थी। इसके बावजूद विजय हजारे ट्रॉफी में बिहार का नाम नहीं था और आइपीएल में भी राज्य के खिलाड़ियों की नीलामी नहीं हुई।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here