बालू माफिया पर रोक लगाएं सीएम : मांझी

0
135
file photo

हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (से ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने आज 60 वर्षीय नेपाली राम की हत्या की पर काफी रोष व्यक्त कि या है। उन्होंने कहा कि ग्राम बिंदौल में रह रहे अनुसूचित जाति के लोगों को बिहार सरकार की जमीन का परवाना दिया गया था। सभी जमीन नदी के किनारे स्थित है। परवाना की जमीन पर बालू माफिया बालू का संग्रह जबरन करते थे । परवाना धारी दलितों के द्वारा विरोधी के बावजूद बालू माफिया बालू का जमाव रखना बंद नहीं कर रहे थे। इसी को लेकर बालू माफिया परवाना धारियों में कहासुनी हुई । इसके फलस्वरूप बालू माफिया ने नेपाली राम की हत्या कर दी । श्री मांझी ने कहा कि दलितों के बीच जमीन का वितरण हो जाने के बाद उस पर कब्जा दिलाने का कार्य पदाधिकारियों का था जो नहीं हो सका। दूसरी ओर दलितों के द्वारा इस आशय की सूचना पदाधिकारियों को देने के बाद भी बालू माफिया के इशारे पर कोई कार्यवाही नहीं हो सकने के कारण घटना घटी है। भविष्य में भी ऐसी घटना घट सकती है। श्री मांझी ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि बालू माफिया द्वारा इस प्रकार की ग्राम बिंदौल की घटना सहित सूबे में सैकड़ों घटना की जांच करवा कर निरीह लोगों की हत्या पर रोक लगाएं। साथ ही बालू माफिया की निरंकुशता पर रोक लगाने की दिशा में समुचित आदेश देने की कृपा करें।

यह भी पढ़े  पटना पुलिस की बड़ी कार्रवाई: घटना के 24 घंटे बाद ही कांस्टेबल मुकेश के हत्यारे को धर दबोचा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here