बार काउंसिल की 7 सदस्यीय टीम आज शाम 7.30 बजे मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा से मिलेगी

0
42
Four senior Supreme Court judges Press conference.

सुप्रीम कोर्ट में चल जजों के बीच चल रहे मतभेद को सुलझाने की कोशिश कर रहे बार काउंसिल की सात सदस्यीय टीम मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा से आज शाम 7.30 बजे मिलेगी. शुक्रवार को हुई चार जजों की प्रेस कांन्फ्रेंस के बाद बार काउंसिल ने इस मामले में जजों से मिलने का फैसला किया है. टीम में जस्टिस दीपक मिश्रा के अलावा अन्य जजों से मिलकर उनकी राय जानेगी ताकि मतभेदों को जल्दी सुलझाया जा सके. बार काउंसिल के सूत्रों ने कहा कि जजों को फुल कोर्ट मीटिंग बुलानी चाहिए और अगर मुख्‍य न्‍यायाधीश उनकी चिंताओं को दूर करने में सक्षम नहीं हैं तो उन्‍हें राष्‍ट्रपति से संपर्क करना चाहिए.

भारत के प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ ‘‘चयनात्मक’’ तरीके से’ मामलों के आबंटन और कुछ न्यायिक आदेशों को लेकर एक तरह से बगावत करने वाले सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ न्यायाधीशों में से एक न्यायमूर्ति रंजन गोगोई ने कहा कि कोई संकट नहीं है. न्यायमूर्ति गोगोई एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए कोलकता आये थे. कार्यक्रम के इतर उनसे पूछा गया कि संकट सुलझाने के लिए आगे का क्या रास्ता है, इस पर उन्होंने कहा, ‘‘कोई संकट नहीं है.’’

यह भी पढ़े  मोदी सरकार का सबसे बड़ा फैसला,रिटेल में एफडीआई 100%

यह पूछे जाने पर कि उनका कृत्य क्या अनुशासन का उल्लंघन है, गोगोई ने यह कहते हुए टिप्पणी करने से इनकार कर दिया कि ‘‘मुझे लखनऊ के लिए एक उड़ान पकड़नी है. मैं बात नहीं कर सकता.’’ वो उच्चतम न्यायालय के वरिष्ठ न्यायाधीश राज्य विधिक सेवा प्राधिकारियों के पूर्वी क्षेत्रीय सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए आये थे.वहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही शामिल एक और जज न्यायमूर्ति जोसेफ ने कोच्चि के पास एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘हम मामला उनके संज्ञान में लेकर आए..’ एससीबीए ने प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के साथ चार वरिष्ठतम न्यायाधीशों के मतभेद पर ‘गंभीर चिंता’ जताई.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के बाद वरिष्ठतम न्यायाधीश जस्टिस जे. चेलामेश्‍वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सुप्रीम कोर्ट प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाए थे और साथ ही लोकतंत्र पर खतरा बताया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here