बांका के शंभूगंज थाना क्षेत्र में पुलिस ने आतंकियों के सहयोगी को उठाया

0
50

बांका जिले के शंभुगंज थाना क्षेत्र से शनिवार तड़के पुलिस ने आतंकियों से साठगांठ रखने के आरोप में एक व्यक्ति को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। पुलिस अधीक्षक स्वपना जे मेश्राम ने यहां बताया कि सूचना मिली थी कि शंभुगंज थाना क्षेत्र के बेलारी गांव में आंतकियों से सांठ-गांठ रखने वाला एक व्यक्ति छिप कर रह रहा है। इसी आधार पर पुलिस ने तड़के गांव की घेराबंदी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार व्यक्ति का नाम रेहान (45 वर्ष) है जिससे गुप्त स्थान पर कड़ी पूछताछ की जा रही है। श्रीमती मेश्राम ने बताया कि छापेमारी में उनके अलावा अपर पुलिस अधीक्षक (अभियान) ओम प्रकाश सिंह तथा बड़ी संख्या में पुलिस के अधिकारी और जवान शामिल थे। हालांकि उन्होंने सुरक्षा कारणों से इस संबंध में विस्तृत जानकारी देने से इनकार किया है। सूत्रों का कहना है कि बांका के रहने वाले एक युवक ने ही पुलवामा हमले की साजिश रची थी। वह इससे पहले संसद पर हुए आतंकी हमले में भी शामिल था। युवक द्वारा बांका स्थित अपने घर में 500 किग्राआरडीएक्स छुपाये जाने की सूचना भी खुफिया विभाग को है।

यह भी पढ़े  लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 91 सीटों पर वोटिंग जारी , सुरक्षा के कड़े इंतजाम

एक दैनिक अखबार में छपी खबर के मुताबिक बांका जिले का चिह्नित आतंकी इससे पहले 2001 में संसद पर आतंकी हमले में भी शामिल था। फिलहाल उसके घर में पांच सौ किलो आरडीएक्स छुपाये जाने का इनुपट खुफिया विभाग को मिला है। इसका खुलासा खुफिया विभाग के एक पत्र से हुआ है।

खुफिया इनपुट के अनुसार वह आतंकी मौलाना मसूद अजहर से जुड़ा है और उसके घर की एक बुजुर्ग महिला भी आत्मघाती हमलावर बन चुकी है, जो हमले की ताक में है। उसके निशाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हो सकते हैं। इस संबंध में पूछने पर बांका की एसपी स्वप्ना जे मेश्राम ने सिर्फ इतना ही कहा कि जो कुछ भी है, उसकी जांच चल रही है। मुझे इस संबंध में कुछ नहीं कहना।

आतंकी कनेक्शन का संदिग्ध रेहान पुलिस हिरासत में

पुलवामा सहित कई आंतकी घटनाओं का संदिग्ध शंभूगंज का चुटिया-बेलारी निवासी मोहम्मद रेहान को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। सुरक्षा एजेंसी को मोहम्मद रेहान के अभी पटना में आयोजित पीएम नरेंद्र मोदी की रैली में किसी घटना को अंजाम देने की जानकारी मिली थी।

यह भी पढ़े  भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के झूठ का किया पर्दाफाश, F-16 गिराने के दिए सबूत

इस संबंध में दो दिन पूर्व ही किसी अज्ञात ने सुरक्षा एजेंसी दिल्ली मुख्यालय को मेल के माध्यम से जानकारी दी थी। जिसके बाद खुफिया और सुरक्षा एजेंसी में हड़कंप मच गया। इस सूचना पर एसपी स्वप्ना जी मेश्राम, एएसपी अभियान ओमप्रकाश सहित कई थानों की पुलिस चुटिया-बेलारी गांव में शनिवार सुबह से ही कैंप कर रही है।

रेहान को हिरासत में लिये जाने के बाद उसके घर की पूरी तलाशी ली गयी। पर पुलिस को कुछ हाथ नहीं लगा है। रेहान के कुछ और नजदीकी से पुलिस ने पूछताछ किया है। पुलिस को गांव के दो और युवकों की तलाश है। इसमें एक का नाम मोहम्मद नौशाद बताया जा रहा है। शाम के बाद से ही वह गांव से फरार है। पुलिस दोनों की कड़ी निगरानी कर रही है।

सुरक्षा एजेंसी को मिले अज्ञात मेल में मु.रेहान के संसद भवन हमला से लेकर पुलवामा कांड में शामिल होने की जानकारी दी गयी है। उस मेल में उसके घर एक महिला के आत्मघाती दस्ते का प्रशिक्षण प्राप्त करने की जानकारी दी गयी है।

यह भी पढ़े  समीक्षा यात्रा के क्रम में भोजपुर पहुंचे सीएम, योजनाओं का किया शिलान्यास

पुलिस खोजबीन में घर में उसकी 70 साल उम्र की मां मिली है। उससे भी पूछताछ की गयी है। उसकी मां बदरू निशां ने बताया कि रेहान पांच भाई है। इसमें दो नागपुर और दो अरब में काम करता है। रेहान गांव में चार भैंस रख कर दूध बेचने का काम करता है। उसकी पत्नी गौसिया प्रवीण उसके साथ गांव में रहती है।

इधर रेहान के हिरासत में लेने के बाद गांव के लोग गुस्से में दिखे। गांव में लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी भी की। घटना के बाद रेहान का पूरा परिवार शंभूगंज थाना पर पहुंचा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here