बर्थडे स्पेशल: गौरी को ढूंढने, बिना Address मुंबई पहुंच गए थे शाहरुख, अक्सा बीच ने बदल दी थी जिंदगी

0
15

हिंदी सिनेमा में अब तक जितने भी रियल लाइफ कपल बने हैं, उनमें सबसे ज्यादा सक्सेसफुल लव स्टोरी अगर किसी कपल की रही है तो वो हैं बॉलीवुड के किंग शाहरुख खान और गौरी खान. आज शाहरुख खान के जन्मदिन के मौके पर हम आपको शाहरुख और गौरी की इसी प्रेम कहानी से जुड़ी कुछ अनसुनी और अनकहीं बातें बताने जा रहे हैं.

ये प्रेम कहानी शुरू होती है साल 1984 में दिल्ली के पंचशील क्लब में चल रही एक पार्टी में, जहां 19 साल के शाहरुख की नजर, 14 साल की गौरी पर पड़ी थी. उस वक्त शाहरुख की नजरें गौरी को देखती ही रह गईं. उस पार्टी में शाहरुख खान ने गौरी को किसी और लड़के के साथ डांस करते देखा और उन्हें गौरी से प्यार हो गया. शाहरुख गौरी को देखते ही दिल तो दे बैठे लेकिन उस रात शर्मीले शाहरुख गौरी से बात करने की हिम्मत नहीं जुटा पाए थे.

रात गई बात गई लेकिन किंग खान के दिल से कोई नहीं गया तो वो थीं गौरी. आखिरकार 25 अक्टूबर, 1984 को तीसरी मुलाकात में शाहरुख ने गौरी के घर का फोन नंबर हासिल कर ही लिया. क्या आपको मालूम है कि गौरी को इंप्रेस करने के लिए शाहरुख ये गाना गाते थे जिसके बोल थे, “गोरी तेरा गांव बड़ा प्यारा मैं तो गया मारा’. गौरी और शाहरुख का प्यार हर दिन परवान चढ़ रहा था शाहरुख गौरी को लेकर बहुत ही पजेसिव थे. इतने पजेसिव की वह गौरी से इतनी सी बात पर लड़ जाया करते थे कि वो अपने बाल क्यों खुले रखती हैं.

यह भी पढ़े  स्कूलों में आज मनेगा ‘‘सर्जिकल स्ट्राइक डे’

शाहरुख की पोसेसिवनेस से परेशान होकर गौरी उन्हें दिल्ली में छोड़कर बिना बताए मुंबई चली गईं थी. शाहरुख गौरी की तलाश में अपने दोस्त को साथ लेकर मुबंई जा पहुंचे. मुंबई में पहले दो दिन शाहरुख अपने एक दोस्त के फ्लैट में रहे लेकिन तीसरे दिन जब दोस्त के माता-पिता आ गए तो मुंबई में अपनी तीसरी रात इन्हें वीटी स्टेशन के पास एक बेंच पर गुजारनी पड़ी .

उस रात को याद करते हुए लेखक मुश्ताक शेख की किताब शाहरुख कैन में शाहरुख के दोस्त बेनी कहते हैं-सुबह जब हम उठे तो पास के ताज होटल में मरम्मत का काम चल रहा था. हम चुपके से होटल के बाथरूम में घुस गए और हमने वहीं नहा कर कपड़े बदले . इसके बाद हम मरीन ड्राइव गए और यहीं शाहरुख ने मेरे सामने कहा- एक दिन मैं इस शहर पर राज करूंगा. फिल्म पत्रकार अनुपमा चोपड़ा की लिखी शाहरुख की जीवनी King of Bollywood में उस दिन को याद करते हुए बेनी कहते हैं..मैं कसम खाकर कहता हूं शाहरुख ने ऐसा कहा था . मैंने उसकी बात सुनकर कहा था कि चुप हो जाओ, बकवास मत करो .

बहुत खोजबीन के बाद आखिरकार शाहरुख ने गौरी को मुंबई के अक्सा बीच पर ढूंढ़ निकाला. शाहरुख को देख गौरी रोने लगी थी. गौरी दिल्ली वापस तो आ गईं लेकिन वो अब भी इस रिश्ते के बारे में फैसला नहीं ले पा रही थीं. उन्होंने शाहरुख से कहा कि वो कुछ दिन तक उनसे नहीं मिलना चाहतीं. उनकी ये बात सुनकर शाहरुख का दिल टूट गया . इसके बाद शाहरुख अपने टीवी सीरियल और थिएटर के काम में डूब गए. उन्होंने गौरी को फोन करना भी बंद कर दिया .

यह भी पढ़े  आज दो अक्तूबर, 2017 है गांधी अौर शास्त्री को देश कर रहा याद

कुछ महीने बाद बाद शाहरुख को गौरी का खत मिला जिसमें गौरी ने लिखा था कि वो उन्हें बेहद मिस कर रही हैं और आखिरकार दोनों के बीच सब कुछ ठीक हो गया. लेकिन दोनों की शादी अब भी एक बड़ा सवाल था क्योंकि गौरी हिंदू थीं और शाहरुख मुसलमान. अभी शादी को लेकर कशमकश चल रही थी कि 1991 की शुरुआत में अचानक शाहरुख की मां की तबीयत खराब हो गई. 14 अप्रैल 1991 को शाहरुख की मां लतीफ फातिमा नहीं रहीं .

मां की मौत के 2 हफ्ते बाद ही उन्होने फैसला कर लिया कि अब वो ये दिल्ली छोड़कर मुंबई शिफ्ट हो जाएंगे..और फिर 26 अगस्त 1991 को शाहरुख और गौरी ने कोर्ट में शादी कर ली . शाहरुख और गौरी का निकाह भी हुआ जिसमें गौरी का नाम आयशा रखा गया. इसके बाद 25 अक्टूबर 1991 को हिंदू रीति-रिवाजों के मुताबिक दोनों की शादी हुई जिसमें शाहरुख के करीबी लोग और फिल्म इंडस्ट्री के उनके दोस्त राजीव मेहरा, अज़ीज़ मिर्जा और विवेक वासवानी उनकी बारात में शामिल हुए .

यह भी पढ़े  आज विश्व मलेरिया दिवस है

शादी के अगले ही दिन शाहरुख और गौरी मुंबई रवाना हो गए क्योंकि शाहरुख को फिल्म ‘दिल आशना है’ की शूटिंग करनी थी. अगले पांच महीने तक दोनों निर्देशक अज़ीज मिर्जा के फ्लैट में रहे . गौरी मुंबई में नई थीं और शाहरुख फिल्म इंडस्ट्री में पैर नहीं जमा पाए थे . शुरुआत में दोनों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ा लेकिन शाहरुख गौरी के बार बार यही यकीन दिलाते कि अच्छे दिन बहुत जल्दी आएंगे . हुआ भी कुछ ऐसा ही… 1992 में शाहरुख खान की फिल्म ‘दीवाना’ रिलीज हुई . दक्षिण दिल्ली में पूरा छिब्बा परिवार भी सपना थिएटर में अपने दामाद शाहरुख की पहली फिल्म देखने पहुंचा था.

गौरी के साथ उनकी शादीशुदा जिंदगी भी बेहद खुशहाल रही. लेकिन 2011 में वो भी हो गया जो शाहरुख के करियर में अब तक नहीं हुआ था. अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा के साथ शाहरुख के जोरदार अफेयर की खबरें सुर्खियां बनने लगीं. ये खबरें भी छपीं कि इस अफेयर ने शाहरुख की शादीशुदा जिंदगी में भी हंगामा मचा दिया. कहते हैं कि अपने परिवार के लिए शाहरुख ने फैसला किया कि वो प्रियंका के साथ अब कभी काम नहीं करेंगे.

हाल ही में इस बॉलीवुड कपल ने अपनी शादी की 27वीं सालगिरह बड़े धूमधाम से सेलिब्रेट की हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here