बढ़ते अपराध को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने सरकार को घेरा

0
91
file photo

नीतीश सरकार में बिहार में बढ़ते क्राइम के ग्राफ ने विपक्ष को लगातार हमला बोलने का मौका दे दिया है। आये दिन आपराधिक घटनाएं सरकार को बैकफुट पर ला रही हैं। ऐसे में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव नीतीश सरकार को लगातार कठघरे में खड़ा कर रहे हैं। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने सुपौल में 34 लड़कियों की पिटाई मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए बिहार सरकार को नोटिस जारी किया है। इसी मुद्दे को लेकर तेजस्वी ने नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि चाचा 2 महीने में 2 नोटिस, कुछ शर्म बची है क्या।राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने बिहार के सुपौल में 34 लड़कियों की पिटाई मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए बिहार सरकार को नोटिस जारी किया है। बिहार के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस जारी कर उनसे पीड़ित लड़कियों की चिकित्सा, स्कूल और छात्रावास की सुरक्षा व्यवस्था और घटना में आरोपी लोगों पर हुई कार्रवाई को लेकर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। नोटिस जारी करते समय आयोग ने कहा है कि मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पीड़ित लड़कियों के मानवाधिकारों का उल्लंघन हुआ है। इस घटना से स्पष्ट है कि लड़कियों के स्कूल में गंभीर सुरक्षा खामी है, जहां असामाजिक तत्वों ने अपनी स्वतंत्र इच्छा से प्रवेश किया, क्रूर कृत्य किया और मौके से भाग गए। जब लड़कियों ने स्थानीय युवाओं द्वारा नियमित छेड़खानी का मामला उठाया था, तो प्रशासन को समय पर कार्रवाई करनी चाहिए थी। इस घटना ने राज्य संचालित हॉस्टलों, स्कूलों में पढ़ रहे लड़कियों की सुरक्षा पर गंभीर प्रश्न खड़ा किया है।

यह भी पढ़े  RJD का दावा, चुनाव की घोषणा होते ही कुशवाहा महागठबंधन में होंगे शामिल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here