बच्चों ने मिल कर की एक बच्चे की गला रेत कर हत्या

0
152

अररिया जिले के कुर्साकांटा थाना क्षेत्र के खजूरबाड़ी में 10 साल के बच्चे की गला काट कर हत्या कर दी गई. मृतक बच्चे का नाम आशिफ है जो बटराहा गांव का निवासी है. हत्या करने वाला उसका दोस्त ही निकला.

अररिया जिले के एक गांव में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। 12 साल के दो बच्चों ने मिलकर सब्जी काटने वाले चाकू से अपने दस साल के दोस्त की गर्दन काटकर हत्या कर दी है। घटना की जानकारी मिलते ही पूरे गांव में सनसनी फैल गई है। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने हत्या के आरोपी बालक को गिरफ्तार कर लिया है। बच्चे ने पुलिस को जो बताया वो हैरान करने वाली बात है।

जानकारी के अनुसार, दो नाबालिगों ने खेत में बुलाकर अपने दोस्त आसिफ की गला रेतकर हत्या कर दी। अररिया के सोनामनी गोदाम क्षेत्र में इस हत्या ने लोगों को चौंका दिया। दोनों आरोपितों की उम्र 11 और 14 साल है। पुलिस ने पकड़ा तो आरोपित बच्चों ने स्वीकार किया है कि उनके पिता ने हत्या के लिए उकसाया था। इसीलिए दोस्त आसिफ को खेत में बुलाकर सब्जी काटने वाले चाकू से गला काट डाला।

यह भी पढ़े  कोतवाली के पास शहाबुद्दीन के शूटर को मस्जिद से निकलते वक्त छह गोलियां दागीं

सोनामनी गोदाम थाना क्षेत्र के खजुड़बाड़ी गांव के पीछे पटसन के खेत में शनिवार दिन के 11:30 बजे आसिफ की हत्या हुई। वह अपने दो दोस्तों के बुलाने पर घर से खेत में आया था। घर से लगभग पांच सौ मीटर की दूरी पर पीछे पटसन का खेत है। आरोपित बच्चों ने बताया कि उनमें से एक ने छाती पर पैर चढ़ाकर गला रेता। दूसरे ने पैर पकड़ रखे थे। नाबालिगों के पिता उनके पड़ोसी हैं। उनका पहले से ही जमीन का विवाद चल रहा है। आए दिन हत्या की धमकी दी जाती थी।

दो बच्चों ने मिलकर एक बच्चे की हत्या की है। पूछताछ में हत्या के कारणों का खुलासा हो चुका है। पिता और फूफा के कहने पर उन्होंने दोस्त को मारा। हत्याकांड में दोनों बच्चों समेत चार लोगों पर पुलिस प्राथमिकी दर्ज करेगी।
कुमार देवेंद सिंह, एसडीपीओ, अररिया

इसी माह पूर्णिया में नाबालिग ने रेत दिया था नाबालिग का गला 
पूर्णिया के रौटा थाना क्षेत्र के एक गांव में सात जून को आठ साल के आदेश कुमार की गला रेतकर हत्या  कर दी गई थी। वह मध्य विद्यालय की छत पर सूखने के लिए फैलाए गए धान की रखवाली कर रहा था। परिजनों को उसका शव छत पर जाने वाली सीढ़ी के नीचे मिला। छानबीन के बाद पुलिस ने पड़ोस के एक नाबालिग को अभिरक्षा में लिया। उसने पारिवारिक दुश्मनी की वजह से हत्या का जुर्म कबूल किया।

यह भी पढ़े  भोजपुर निर्वस्त्र कांड में पांच दोषियों को 7-7 वर्ष की कैद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here