फोन पर दें शराब की सूचना एक घंटे में कार्रवाई : नीतीश

0
186

पटना – मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को विधान परिषद् में कहा कि सरकार शराबबंदी पर कोई समझौता नहीं करेगी। इसके लिए बिजली के पोल पर फोन नंबर लिखा गया है। लोग कॉल कर शराब बनाने , बेचने या पीने जैसे मामले की शिकायत करते हैं । इस प्रक्रिया में सरकार अब तब्दीली करने जा रही है। उन्होंने कहा कि शराब के मामले की शिकायत के लिए अब सिर्फ एक फोन नंबर होगा। कॉल आने के एक घंटे के अंदर संबंधित क्षेत्र की पुलिस कार्रवाई करेगी। कार्रवाई के बाद कॉलर को फोन कर सूचना भी दी जाएगी। इसके लिए आईजी या डीआजी स्तर के एक अधिकारी को मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी दी जाएगी। 
द पटना (एसएनबी)। मुजफ्फरपुर सड़क हादसे में नौ बच्चों की मौत विचलित करने वाला हादसा है। इस मामले में हर तरह की कार्रवाई की गई। ऐसी दुर्घटनाओं के लिए जिम्मेदार वाहन चालक पर कड़ी कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। राज्य में जहां भी ग्रीन फील्ड हाई-वे बनेंगे, वहां फुट ओवरब्रिज के अलावा पैदल पथ पार भी बनाया जायेगा। जेब्रा लाइन को लेकर यहां के लोग और वाहन चालक जागरूक नहीं हैं। सड़क हादसा एक संवेदनशील मामला है, इसपर सभी सदस्य विचार करें। सड़क दुर्घटना के बाद काफी कम सजा होती है। हमने बैठक बुलाई है, जिसमें केंद्रीय कानून की समीक्षा की जाएगी। ये बातें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान सदन में कहीं। उन्होंने कहा कि सड़कों की संख्या और लंबाई तो बढ़ ही रही है, साथ ही आबादी भी बढ़ रही है। इसे देखते हुए बैठक बुलाई गई है। सड़क दुर्घटना में सजा के कड़े प्रावधान नहीं हैं। मृत्यु हो जाने पर भी अधिकतम सजा दो वर्ष ही है। यह केंद्रीय कानून है और हम इसकी समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं, जिसे रोकने के लिए कार्रवाई की जा रही है। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के आलोक में इस पर रोक के लिए बुनियादी तैयारी हो रही है। सड़कों पर पीले और लाल मार्क के अलावा बाकी कार्य हो रहा है। सड़क हादसों को रोकने के लिए हमलोगों को विशेष तैयारी करनी है। इसी कड़ी में 25 मार्च को पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक बुलाई गई है।

यह भी पढ़े  किसानों के खाते में सीधे पैसे भेजें:नीतीश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here