फीफा विश्व कप: क्रोएशिया ने आइसलैंड को 2-1 से दी मात

0
63

क्रोएशिया ने मंगलवार देर रात खेले गए फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण में ग्रुप-डी में रोस्टोव एरिना में खेले गए मैच में पहला विश्व कप खेल रही आइसलैंड को 2-1 से मात देकर ग्रुप दौर का अंत पहले स्थान के साथ किया है। इस हार से आइसलैंड का सफर निराशा के साथ खत्म हुआ। उसने अर्जेटीना को पहले मैच में 1-1 की बराबरी पर रोक कर शानदार आगाज किया था।

इस मैच में आइसलैंड की अगले दौर में जाने की संभावनाएं थीं। इसके लिए उसे क्रोएशिया को हराना पड़ता साथ ही दुआ करनी थी कि अर्जेटीना इसी ग्रुप के दूसरे मैच में नाइजीरिया को मामूली अंतर से हरा दे। अर्जेटीना ने नाइजीरिया को 2-1 से तो हरा दिया लेकिन आइसलैंड अपना मैच नहीं जीत पाई।

क्रोएशिया ने ग्रुप दौर का अंत तीन मैचों में तीन जीत हासिल कर नौ अंकों के साथ किया। वहीं अर्जेटीना तीन मैचों में एक हार, एक जीत, एक ड्ऱॉ से चार अंक हासिल कर दूसरे स्थान पर रही। यह दोनों टीमें अगले दौर में पहुंचने में सफल रहीं। नाइजीरिया तीन अंकों के साथ तीसरे और आइसलैंड एक अंक के साथ चौथे स्थान पर रही।

यह भी पढ़े  फीफा वर्ल्ड कप फुटबॉल.... चैम्पियन का इंतजार

पहली बार विश्व कप खेल रही आइसलैंड को अगले दौर में जाना था और इस मैच में जीत चाहिए थी। क्रोएशिया की बेहतरीन आक्रमण पंक्ति के बारे में वो वाकिफ थी और इसलिए वो रक्षात्मक रणनीति के साथ खेल रही थी। आइसलैंड ने मौके बनाने के ज्यादा प्रयास नहीं किए, लेकिन क्रोएशिया के खिलाड़ियों को पेनाल्टी एरिया के पास ही रोके रखा।

गेंद अधिकतर समय क्रोएशिया के पास थी। 19वें मिनट में क्रोएशिया को पहला कॉर्नर मिला जो जाया हो गया। मौके दोनों टीमें बना नहीं पा रहीं थी और बेहद कसी हुई फुटबाल देखने को मिल रही थी। इसी बीच 31वें मिनट में आइसलैंड को पहली फ्री किक मिली। इस मौके को भुनाने की जिम्मेदारी गयल्फी सिगुर्डसन ने ली जिसे क्रोएशिया के गोलकीपर लवरे कालिनिक ने रोक लिया।

अंत में आइसलैंड ने दो शानदार मौके बनाए। 40वें मिनट में फिनबोगासन ने 30 यार्ड की दूरी से शॉट लगाया जो साइड नेट में जा कर लगा और आइसलैंड गोल नहीं कर पाई। वहीं पहले हाफ के इंजुरी टाइम में गुनार्सन के शॉट को कालिनिक ने डाइव मार कर रोक लिया।

यह भी पढ़े  Asian Games 2018: भारत ने सबसे अधिक मेडल जीतने का रिकॉर्ड तोड़ा, अब तक 63 जीते

पहले हाफ में आइसलैंड की रक्षात्मक नीति काम आई थी, लेकिन दूसरे हाफ में वो क्रोएशिया को रोकने में ना कामयाब रही। 53वें मिनट में मिलान बाडेजी ने गोल कर क्रोएशिया को 1-0 से आगे कर दिया। दो मिनट पहले बादेजी की किक बार से टकरा कर वापस आ गई थी, लेकिन इस बार वो गेंद को नेट में डालने में सफल रहे।

आइसलैंड बराबरी की कोशिश में थी और 74वें मिनट में उसकी किस्मत साथ दे गई। पेनाल्टी एरिया में गेंद क्रोएशिया के डिफेंडर के हाथ से टकराई और आइसलैंड को पेनाल्टी मिली जिसे सिगुर्डसन गोल में बदल कर अपनी टीम को 1-1 से बराबरी पर ला दिया।

आइसलैंड बराबरी का स्कोर ज्यादा देर तक कायम नहीं रख सकी और इवान पेरिसिक ने इंजुरी टाइम (91वें मिनट) में गोल कर क्रोएशिया को जीत दिला दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here