फसलों का एमएसएपी लागत का डेढ़ गुना किया गया

0
11

किसानों को फसल की लागत का कम से कम डेढ़ गुना दाम दिलाने के वायदे को पूरा करने की दिशा में कदम उठाते हुए सरकार ने धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) बुधवार को 200 रपए प्रति ¨क्वटल बढ़ा दिया। सरकार ने यह निर्णय ऐसे समय लिया है जबकि कृषि उपजों के दाम गिरने से किसान परेशान हैं और आम चुनाव एक साल के अंदर होने वाले हैं।भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 2014 में किसानों से साथ चुनावी वादा किया था कि वह किसानों को उनकी लागत का डेढ़ गुना मूल्य दिलाएगी। इसे पूरा करने के लिए सरकार ने इस साल पहली फरवरी को पेश किए गए अपने आखिरी पूर्ण बजट में इस वायदे को पूरा करने की घोषणा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों से संबंधित समिति ने 14 खरीफ फसलों के एमएसपी के प्रस्तावों को स्वीकृत किया।सूत्रों के अनुसार धान (सामान्य किस्म) का न्यूनतम समर्थन मूल्य 200 रपए बढाकर 1750 रपए प्रति ¨क्वटल तथा धान (ग्रेड ए) का न्यूनतम समर्थन मूल्य 160 रपए बढ़ाकर 1750 रपए प्रति ¨क्वटल कर किया गया है। इसी तरह कपास (मध्यम आकार का रेशा) का एमएसपी 4020 रपए प्रति ¨क्वटल से बढ़ाकर 5150 रपए प्रति ¨क्वटल और कपास (लंबा रेशा) का एमएसपी 4320 रपए प्रति ¨क्वटल से बढ़ाकर 5450 रपए प्रति ¨क्वटल पर कर दिया गया।अरहर का एमएसपी 5450 रपए प्रति ¨क्वटल से बढ़ाकर 5,675 रपए प्रति ¨क्वटल, मूंग का एमएसपी 5575 रपए प्रति ¨क्वटल से बढ़ाकर 6975 रपए प्रति ¨क्वटल और उड़द का एमएसपी 5400 रपए प्रति ¨क्वटल से बढ़ाकर 5,600 रपए प्रति ¨क्वटल किया गया है। विपणन वर्ष 2016-17 की खरीद के आंकड़ों के हिसाब से धान का एमएसपी बढ़ाने से खाद्य छूट पर 11 हजार करोड़ रपए का बोझ आएगा। धान खरीफ सीजन की मुख्य फसल है। सरकार की ओर से भारतीय खाद्य निगम अनाज की खरीद और वितरण करता है। यह खरीद सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य के आधार पर की जाती है।वर्ष 2017-18 में भारत में अनाज उत्पादन 27.951 करोड़ टन होने का अनुमान है। यह एक नया कीर्तिमान होगा। अनाज उत्पादन बढ़ने से चीनी, दाल दलहनों आदि की कीमतों में नरमी है लेकिन कुछ विश्लेषकों का कहना है कि एमएसपी बढ़ाए जाने से खाद्य मुद्रास्फीति बढ़ सकती है। सोयाबीन का एमएसपी 3399 रपए प्रति ¨क्वटल, ज्वार का एमएसपी 2430 रपए , रागी 2897, मूंगफली छिलका का 4890, सूरजमुखी का 5388 और रामतिल का 5877 रपए प्रति ¨क्वटल किया गया है।

यह भी पढ़े  एनडीए सरकार ने किया पैक्सों को पुनर्जीवित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here