बंगाल में हिंसा की वजह BJP नहीं बल्कि TMC, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का बयान

0
67

चुनाव आयोग मूक पर्यवेक्षक बना हुआ है, चुनाव आयोग तुरंत हस्तक्षेप करे, बंगाल में हिस्ट्री शीटरों की गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई? इसी प्रकार चुनाव कराना है तो चुनाव आयोग पर सवाल उठेंगे। 

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण का रण बंगाल में हिंसक हो गया है. मंगलवार को कोलकाता में हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में जमकर बवाल हुआ, हिंसा हुई और आगजनी भी हुई. इसी मुद्दे पर बीजेपी आक्रामक है. आज दिल्ली में अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और जमकर ममता बनर्जी पर हमला बोला. अमित शाह ने कहा कि बंगाल में जो घटनाएं हुई हैं, उसी की हकीकत बताने आया हूं. देश में कहीं पर भी हिंसा नहीं हो रही है, लेकिन सिर्फ बंगाल में हो रही हैं. शाह ने कहा कि BJP तो पूरे देश में चुनाव लड़ रही है, लेकिन हिंसा सिर्फ बंगाल में हो रही है. अमित शाह ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने ही उनकी बाइक और गाड़ियां जलाईं, अगर कल CRPF नहीं होती तो उनका जिंदा निकलना मुश्किल था.

यह भी पढ़े  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हीट वेव से प्रभावित रोगियों से मिलने के लिए गया मगध मेडिकल कॉलेज पहुंचे

सुबह से पूरे कोलकाता में चर्चा थी कि यूनिवर्सिटी के अंदर से आकर कुछ लोग दंगा करेंगे। पुलिस ने कोई जांच नहीं की और न ही किसी को गिरफ्तार करने की कोशिश की गयी

कल रोड शो से तीन घंटे पहले हमारे बैनर पोस्टर हटा दिए गए, पीएम के पोस्टर फाड़े गए, पुलिस मूक दर्शक बनी रही। रोड शो के दौरान तीन बार हमले किए गए, पत्थर फेंके गए, आगजनी हुई।

मैं ममता जी को बताना चाहता हूं कि आप सिर्फ 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं और भाजपा देश के सभी राज्यों में चुनाव लड़ रही है । मगर कहीं पर भी हिंसा नहीं हुई, लेकिन बंगाल में हर चरण में हिंसा हुई इसका साफ़ मतलब है कि हिंसा TMC कर रही है।

इस तरह की हिंसा ने साबित कर दिया है कि अब ममता सरकार की उल्‍टी गिनती शुरू हो गई है। टीएमसी चुनाव हारने जा रही है।

इस तरह की हिंसा ने साबित कर दिया है कि अब ममता सरकार की उल्‍टी गिनती शुरू हो गई है। टीएमसी चुनाव हारने जा रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here