प्रधानमंत्री कार्यालय अब ‘प्रचार मंत्री का ऑफिस’ बन गया है: राहुल गांधी

0
75

इंफाल: लोकसभा चुनावों की तारीखों के ऐलान के बाद देश की दो प्रमुख विपक्षी पार्टियों भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस ने अपने प्रचार अभियान में तेजी ला दी है। इसी के साथ एक-दूसरे के नेताओं पर हमले करन का सिलसिला भी तेज हो गया है। बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) अब ‘प्रचार मंत्री का ऑफिस’ बन गया है। मंगलवार की शाम अरुणाचल प्रदेश से इंफाल पहुंचे गांधी मणिपुर राज्य फिल्म विकास सोसाइटी के छात्रों से बात कर रहे थे।

गांधी ने कहा, ‘प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) अब प्रचार मंत्री का कार्यालय बन गया है।’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस ‘सांस्कृतिक साम्राज्यवाद’ में विश्वास नहीं करती और इसका मानना है कि देश के किसी एक हिस्से को दूसरे हिस्सों पर शासन नहीं करना चाहिए क्योंकि हर राज्य की अपनी सांस्कृतिक अभिव्यक्ति होती है जिसका सम्मान किया जाना चाहिए। गांधी ने कहा, ‘देश के हर हिस्से को अपनी बात को अभिव्यक्ति करने की अनुमति दी जानी चाहिए। भाजपा-आरएसएस गठजोड़ एक विचार थोपना चाहता है और दूसरे विचारों को कुचलना चाहता है।’

यह भी पढ़े  ओलिविया कोलमैन को बेस्ट एक्ट्रेस, रैमी को बेस्ट एक्टर और 'ग्रीन बुक' को मिला बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘जब भी उनके खिलाफ कोई विरोध प्रदर्शन होते हैं तो उनकी ये असलियत सामने आ जाती है।’ गांधी ने पूर्वोत्तर के मुद्दे पर कहा कि रोजगार संकट से निपटना और क्षेत्र में कनेक्टिविटी को बढ़ावा देना उनकी सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा, ‘हमारे हिसाब से क्षेत्र संभावित विनिर्माण हब है। कृषि क्षेत्र में, पर्याप्त भंडारण व्यवस्था न होने के कारण अन्न और सब्जियां यहां बेकार हो जाती हैं। मणिपुर में खाद्य प्रसंस्करण उद्योगों की स्थापना की जा सकती है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here