प्रदेश में साक्षरता की दर बढ़ाने को सरकार निरंतर प्रयत्नशील : मोदी

0
77
PATNA MARWARI SAMMELAN MEIN ANG DAN PROGRAMME KA UDGHATAN KERTE DY CM SUSHIL KUMAR MODI

जिस देश की परम्परा दान की रही हो, जिस देश में एक से बढ़कर एक दानवीरों ने जन्म लिया हो उस देश के लोगों को उस परम्परा, उन लोगों से सीख लेने की जरूरत है। देश में चली आ रही दान की परम्परा को आगे बढ़ाने की जरूरत है। उक्त बातें रविवार को उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहीं। वे बिहार चैम्बर ऑफ कॉमर्स में वन बंधु परिषद् के 9वें रंगारंग वार्षिकोत्सव को संबोधित कर रहे थे। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई वो व्यक्ति धनवान नहीं हो सकता, जो दूसरों को धनवान नहीं बना सकता है। सभी को अपने सामर्य के मुताबिक दान करना चाहिए। चाहे वो धन के रूप में हो, श्रम के रूप में हो, शिक्षा के रूप में हो या अंग दान हो। वर्तमान समय में तमाम परेशानियों को समाप्त करने के लिए शिक्षा की जरूरत है। अगर हम शिक्षा दान करें, तो इससे बड़ा कोई दान नहीं हो सकता है। श्री मोदी ने कहा कि बिहार में 70 प्रतिशत साक्षरता है, जिसे बढ़ाने के लिए सरकार निरंतर प्रयत्नशील है। शिक्षा ऋ ण वित्त निगम की र्चचा करते हुए कहा कि निगम अब उच्च शिक्षा के लिए लड़कियों को एक प्रतिशत पर और लड़कों को चार प्रतिशत की दर पर ऋ ण उपलब्ध करा रहा है। उपमुख्यमंत्री ने वन बंधु परिषद की ओर से चलाए जा रहे एकल अभियान (स्कू ल) की सराहना करते हुए ऐसे कायरे में सभी को अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने की बात कही। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की हुई प्रस्तुतिमौके पर देश के विभिन्न राज्यों के एकल विद्यालय में पढ़े हुए छात्र-छात्राओं ने अनेकों सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। सबसे पहले मध्य प्रदेश, झारखण्ड, सिक्किम, असम व हिमाचल प्रदेश से आये छात्र-छात्राओं ने मिले सुर मेरा तुम्हारा.. की प्रस्तुति कर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। इसके बाद प्रिया, सुमित्रा, नीना, करुणा, तिलक चंद और राधेश्याम ने ‘‘ऐसी लागी लगन, मीरा हो गई मगन.. भजन गाकर सबका मन मोह लिया। इसके बाद देशभक्ति के गाने पेश हुए। इसके बाद सभी कलाकारों ने मिलकर कृष्ण नृत्य नाटिका की मनमोहक प्रस्तुति दी गयी। धन्यवाद ज्ञापन महामंत्री महेश जालान ने किया। मंच संचालन मगनदेव नारायण सिंह ने किया। एकल स्कूलों के शिक्षकों को मिलेगा दवा दुकान का लाइसेंस : मंगल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्वास्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने कहा कि एकल अभियान के तहत स्कूलों में शिक्षा देने वाले अल्प वेतनभोगी शिक्षक अगर अपनी आय बढ़ाना चाहते हैं, तो राज्य सरकार उनकी मदद करेगी। राज्य भर में चलाए जा रहे 3600 स्कू लों के शिक्षकों के लिए ड्रग एंड कॉस्मेटिक एक्ट के तहत दवा की दुकान का लाइसेंस उपलब्ध करा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में वन बंधु परिषद का यह प्रयास बहुत ही अच्छा है। स्वास्य मंत्री ने कहा कि आने वाले तीन माह के अंदर राज्य के सभी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में आई बैंक की शुरुआत हो जाएगी। अतिथियों का स्वागत बिहार केमिस्ट्स एण्ड ड्रगिस्टस एसोसियेशन के अध्यक्ष पीके सिंह ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता बिहार वन बंधु परिषद के अध्यक्ष राधेश्याम बंसल ने की। इस वार्षिकोत्सव कार्यक्रम में 150 एकल विद्यालय के करीब 200 छात्र-छात्राएं और आचार्य भी उपस्थित थे। किये गये सम्मानित : उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, स्वास्य मंत्री मंगल पाण्डेय, पीके सिंह, पद्मश्री डॉ नरेन्द्र प्रसाद, पद्मश्री डॉ आरएन सिंह, एलएन पोद्दार, रमेश गुप्ता, विजय किशोरपुरिया, संजय भरतिया, महावीर अग्रवाल, अभय कनोडिया, राजेश गुप्ता, विनय सिंह, मोती लाल खेतान और राधेश्याम बंसल।

यह भी पढ़े  2017 के टॉपर्स को छात्रवृत्ति देगा बिहार बोर्ड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here