पोल खोल-हल्ला बोल आंदोलन की तैयारी में जुटीं वामपंथी पार्टियां

0
85
PATNA KARGIL CHOWK PER KERNATAKA MEIN BJP GOVERNMENT KE KHELAF BHAKPA MALE KA PERDERSHAN

केंद्र की मोदी सरकार चार साल पूरे होने पर 26 मई को पूरे देश में जश्न मनायेगी। वहीं वामपंथी पार्टियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ पोल-खोल हल्ला बोल अभियान शुरू कर दिया है। वामपंथी पार्टियां देशव्यापी कार्यक्रम के तहत 23 मई को सभी राज्यों की राजधानी में पोल खोल हल्ला मार्च निकालेंगी। राजधानी पटना के गांधी मैदान में भी पोल खोल हल्ला बोल कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। इसकी तैयारी पूरे राज्य में जोर शोर से चल रही है। इस आंदोलन में भाकपा, माकपा, भाकपा माले, फार्वड ब्लॉक, एसयूसयीआई (सी), आरएसपी सहित सभी वामदलों के जनसंगठन भी शामिल होंगे। जनशक्ति भवन में शनिवार को भाकपा से जुड़े हुए जनसंगठनों की बैठक हुई। बैठक से मोदी सरकार के विनाशकारी चार साल को लेकर व्यापक जनसमुदाय में अभियान चलाने को ले गठित जन एकता जन आंदोलन के कार्यक्रमों को सफल बनाने का आह्वान किया गया। राष्ट्रीय स्तर पर जनसंगठनों-जनांदोलनों की ताकत को जन एकता जनांदोलन में जोड़ा गया है। बैठक को संबोधित करते हुए भाकपा राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने कहा कि वामदलों के आह्वान पर देश भर में एक सौ से ज्यादा वामपंथी संगठन विरोध प्रदर्शन में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि पिछले सालों से लगातार एक के बाद एक समाज का हर एक तबका सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरता दिखा है। राजस्थान, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश आदि राज्यों में हुए किसान आन्दोलन, पिछले साल की किसान संसद और मजदूर महापड़ाव ,दिल्ली में शिक्षक आन्दोलन और छात्र आन्दोलन इस बात की गवाही देते हैं। इनके अलावा दलित और महिला संगठन भी पिछले सालों में इस सरकार के खिलाफ प्रतिरोध के सुर तेज कर करते दिखे हैं। यही वजह है कि 26 मई को जब सरकार अपने 4 साल पूरे करेगी और अपनी तथाकथित उपलब्धियां गिनायेगी उसी समय सभी जन संगठन भी सरकार के इन जुमलों की पोल खोलते दिखेंगे। जन आंदोलन के माध्यम से बेरोजगारी को खत्म करने के लिए विभागों में सभी खाली पदों को भरा जाये और सरकारी विभागों में ठेका प्रथा बंद की जाये, मजदूरों को 18,000 न्यूनतम वेतन और पेंशन दी जाए, किसानों को लागत का डेढ़ गुना दाम मिले, कर्ज माफी हो और उन्हें पेंशन मिले, मनरेगा को ठीक ढंग से लागू किया जाये आदि मुद्दे उठाये जायेंगे। बैठक में भाकपा के पूर्व राज्य सचिव राजेंद्र प्रसाद सिंह, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य जानकी पासवान, पूर्व विधायक राजेंद्र राजन, पार्टी नेता रामचंद्र सिंह, चक्रधर प्रसाद सिंह, गजनफर नबाब, रवींद्रनाथ राय, छात्र नेता सुशील कुमार आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़े  भाजपा महिला मोर्चा करेगा आयोजन, रंगारंग महिला सम्मान समारोह 26-27 को

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here