पीएम पैकेज पूरा करने को बढ़ानी होगी रफ्तार, 75 योजनाओं में अब तक 10 ही पूरी

0
80

पीएम पैकेज की योजनाओं को शीघ्र धरातल पर उतारने के लिए कार्यान्वयन एजेंसियों को रफ्तार बढ़ानी होगी। पीएम पैकेज की 75 योजनाओं में अब तक 10 ही पूरी हुई हैं और शेष पर काम चल रहा है। ध्यान रहे कि अगले चार-पांच महीने तक प्रदेश को बाढ़ व बारिश के हालात से जूझना पड़ेगा। ऐसे में निर्माण की गति धीमी पड़ जाती है। पिछले विधानसभा चुनाव के समय ही पीएम पैकेज की घोषणा हुई थी। यदि निर्माण एजेंसियां तेजी नहीं दिखायेंगी तो वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव तक भी पीएम पैकेज की शेष 65 योजनाओं का काम पूरा होने की उम्मीद नहीं है। हालांकि पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव पीएम पैकेज से संबंधित सभी कायरे की लगातार मानिटरिंग कर रहे हैं। साथ ही विभागीय पदाधिकारियों के साथ बैठक भी कर रहे हैं ताकि कार्य जल्द से जल्द धरातल पर उतरे। पिछले दिनों ही उन्होंने पीएम पैकेज को लेकर समीक्षा बैठक की थी। इसमें पता चला कि पीएम पैकेज की 75 योजनाओं में 10 योजनाएं ही अब तक पूरी हुई है। 20 योजनाओं की अबतक स्वीकृति भी नहीं मिली है। शेष 4 परियोजना का डीपीआर राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा तैयार किया जा रहा है। फिलहाल 75 में 41 योजनाओं का कार्यान्वयन चल रहा है। उल्लेखनीय है कि फिलहाल राज्य सरकार को पुल-पुलिया व सड़क निर्माण के क्षेत्र में बहुत कार्य करना है। महात्मा गांधी सेतु के समानांतर 4 लेन पुल ,कोसी नदी पर फुलौत घाट में 4 लेन पुल,आरा-मोहनिया रोड 4 लेन सड़क,दिघवारा-शेरपुर के बीच गंगा नदी पर पुल समेत कई कार्य किए जाने हैं। महात्मा गांधी सेतु के समानान्तर 2926 करोड़ की लागत से बनाये जाने वाले नये 4 लेन पुल एवं एनएच-106 के मार्गरेखन पर कोशी नदी के उपर फुलौत में 1478 करोड़ की लागत से प्रस्तावित पुल के निर्माण के लिए आवश्यक भू-अर्जन कार्य किया जाना है। भागलपुर में प्रस्तावित विक्रमशीला पुल के समानान्तर नये 4 लेन पुलके निर्माण के लिए भू-अर्जन कार्य शेष है। ये कार्य पूरे होने पर पीएम पैकेज के अन्तर्गत 2000 करोड़ की कर्णांकित राशि से पुल का निर्माण कार्य प्रारंभ कराया जा सकेगा। पथ निर्माण के एजेंडे के मुताबिक पटना-गया पथ की मरम्मति इस समय अक्टुवर तक पूर्ण हो जायेगी। छपरा बाईपास 3 माह में पूर्ण होगा। सोन नदी पर कोईलवर पुल मार्च, 2020 तक चालू होगा। महात्मा गांधी सेतु का एक लेन दिसम्बर, 19 तक चालू होगा। पटना में गंगा नदी पर महात्मा गांधी सेतु के समानांतर 4 लेन के निर्माण के लिए निविदा जारी करने की प्रक्रिया चल रही है ।इसका निर्माण लागत 2900 करोड़ रुपया है। राज्य सरकार ने इसके लिए भूमि की व्यवस्था कर दी है। इसी प्रकार कोसी नदी पर फुलौत घाट पर निर्मित होने वाले 4 लेन का टेंडर अगस्त माह में जारी करने का निर्णय लिया गया है। 1700 करोड़ की लागत से बनने वाले इस पुल से बिहपुर-वीरपुर की कनेक्टिीविटी स्थापित होगी। भागलपुर में गंगा नदी पर विक्रमशिला सेतु केसमांतर 4 लेन पुल के निर्माण के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण स्थल अध्ययन करने वाली है और उसके बाद निविदा की कार्रवाई होगी। राज्य सरकार अपने संसाधन से भू-अर्जन कर रही है।इसमें नवगछिया-भागलपुर होते हुए झारखण्ड की सीमा हंसडीहा तकका पथांश 4 लेन का होगा। पटना रिंग रोड के अंतर्गत प्रथम चरण में कन्हौली से लखना तक एवं गंगा नदी पर दिघवारा से शेरपुरके बीच पुल निर्माण का कार्य करने पर सहमति बन गई है। इसके लिए राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा डीपीआर बनाया जा रहा है। छह लेन गंगा ब्रिज का काम तेजी से चल रहा है। कुल 67 पायों का निर्माण होना है, जिसमें 55 पायों में काम शुरू हो गया है ।

यह भी पढ़े  चमकी से अब तक 85 बच्चों की मौत, स्वास्थ्य मंत्री की मौजूदगी में दो मासूमों ने तोड़ा दम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here