पाकिस्तान में पहले सिख पुलिस ऑफिसर के साथ हाथापाई, घर से बाहर निकाला

0
63

पाकिस्तान में पहले सिख पुलिस ऑफिसर गुलाब सिंह के साथ उनके घर में हाथापाई की गई। लाहौर स्थित उनके घर में घुसकर लोगों ने उन्हें जबरन घर से बाहर निकाल दिया। गुलाब सिंह ने बताया कि जबरन उनकी पगड़ी भी खोली गई। उन्होंने पुलिस से 10 मिनट का समय मांगा, लेकिन पुलिस ने उनकी एक बात नहीं सुनी। बता दें कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों के साथ लगातार अत्याचारों की खबरें बढ़ती जा रही हैं।

हाल ही में पाकिस्तान में सिख कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारा गया था। गुलाब सिंह ने एक विडियो में पूरी जानकारी दी। उन्होंने कहा, ‘मैं गुलाब सिंह पाकिस्तान का पहला सिख ट्रैफिक वॉर्डन हूं। मेरा साथ ऐसा सलूक किया जा रहा है जैसा चोरों-डाकुओं के साथ किया जाता है।

उन्होंने कहा, ‘तारिक वजीर जो अडिशनल सेक्रटरी है और तारा सिंह जोकि पाकिस्तान गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी का भूतपूर्व प्रधान है, उन्होंने कुछ लोगों को खुश करने के लिए यह काम किया है। अदालत में मेरे केस भी चल रहे हैं। इस पूरे गांव में सिर्फ मुझे ही निशाना बनाया जा रहा है और मेरा घर खाली करवाया गया। आप देख सकते हैं मेरे सिर पर पगड़ी भी नहीं है। वे मेरी पगड़ी भी छीनकर ले गए और उन्होंने मेरे केश भी खींचे हैं।

यह भी पढ़े  G20: ब्यूनस आयर्स में सऊदी अरब के शहजादे और UN के महासचिव से मिले PM मोदी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here