पांच साल के अंदर पटना में दौड़ने लगेगी मेट्रो

0
11
पटनावासियों के लिए खुशखबरी है. 2024 से यहां भी मेट्रो का परिचालन शुरू हो जायेगा. मुख्य सचिव दीपक कुमार ने इसकी पुष्टि की है.
उन्होंने कहा कि सबकुछ ठीकठाक रहा, तो इस वित्तीय वर्ष के अंत तक निर्माण कार्य भी शुरू हो जायेगा. मोबिलिटी प्लान को लेकर मंगलवार को मुख्य सचिवालय के सभा कक्ष में अधिकारियों ने प्रेजेंटेशन दिया. तय हुआ कि पटना में यातायात के दबाव के हिसाब से मेट्रो का ही परिचालन होना चाहिए. राजधानी की दो रूटों के लिए डीपीआर (डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट) पहले से ही तैयार है. इस दौरान वित्त विभाग की प्रधान सचिव सुजाता चतुर्वेदी, पटना के डीएम कुमार रवि, परिवहन सचिव संजय अग्रवाल आदि मौजूद थे.
उधर, प्रेजेंटेशन के बाद नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद ने कहा कि यह रिपोर्ट लोक वित्त समिति के सामने भेजी जायेगी. वहां से मुहर लगने के बाद इसे कैबिनेट में रखा जायेगा. यहां से पास होने के बाद भारत सरकार को भेजा जायेगा. वहां करीब 28 विभागों के मंथन के बाद हरी झंडी मिलेगी.
55 स्टेशन प्रस्तावित
राजधानी में राइट्स द्वारा तैयार मेट्रो की डीपीआर में 55 रेलवे स्टेशन प्रस्तावित हैं. औसतन प्रति किलोमीटर पर एक मेट्रो स्टेशन तैयार करने की योजना है. मेट्रो रेल की कुल लंबाई 60 किलोमीटर होगी. इसके लिए पांच कॉरिडोर तैयार किये जाने हैं. पूर्व की डीपीआर में सबसे बड़ा मेट्रो रेल मार्ग 16 किलोमीटर का है, जो नाॅर्थ-साउथ कॉरिडोर के नाम से जाना जायेगा. यह पटना जंक्शन से शुरू होकर गांधी मैदान, पीएमसीएच, पटना विवि, राजेंद्र नगर, एनएमसीएच, जीरोमाइल होते हुए आईएसबीटी तक जायेगा.
 
प्रोजेक्ट के लिए चाहिए जमीन
 
53,173 वर्ग किलोमीटर कुल क्षेत्रफल
 
छह किमी का रूट, इसी वित्तीय वर्ष में शुरू होगा काम
मेट्रो प्रोजेक्ट के एक फेज का काम इसी वित्तीय वर्ष में शुरू होगा. राजधानीवासियों को पहली मेट्रो सेवा से सफर करने का मौका 2024 में मिलेगा. प्रोजेक्ट पर पहला कार्य नॉर्थ-साउथ कॉरिडोर पर होगा. इसका पहला रूट  मीठापुर से बैरिया स्थित अंतरराज्यीय बस पड़ाव तक छह किमी का होगा. इसके बाद अन्य रूटों पर निर्माण शुरू होगा.

यह होगा मेट्रो में
कॉरिडोर एक– दानापुर से मीठापुर के बीच कुल 12 स्टेशनों में दानापुर, सगुना मोड़, आरपीएस मोड़, पाटलिपुत्र, रुकनपुरा, राजाबाजार, गोल्फ क्लब, पटना जू, विकास भवन, आयकर गोलंबर, पटना व मीठापुर
– 16.94 किमी में एलिवेटेड 5.49 किमी और अंडरग्राउंड 11.21 किमी

यह भी पढ़े  नीतीश ने बिहार विधानमंडल के नये भवन को लेकर अधिकारियों को दिये 10 बड़े निर्देश

कॉरिडोर दो – पटना स्टेशन से बस स्टैंड के बीच कुल 12 स्टेशन बस स्टैंड, जीरो माइल, गांधी सेतु, कुम्हरार, एनएमसी, राजेंद्रनगर, प्रेमचंद रंगशाला, पटना विवि, पीएमसीएच, गांधी मैदान, आकाशवाणी व पटना स्टेशन
– 14:45 किमी में एलिवेटेड 9.9 किमी और अंडरग्राउंड 4.55 किमी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here