पटना विविद्यालय कैंपस को घोषित किया गया है पॉलीथिन फ्री जोन

0
16

पटना विविद्यालय प्रशासन ने उच्चस्तरीय शोध की दिशा में कई पहल शुरू की है। इनमें सबसे प्रमुख कार्य नेशनल डॉल्फिन रिसर्च सेंटर की स्थापना करना है। यह कार्य वन व पर्यावरण विभाग, बिहार सरकार के सहयोग से कार्यान्वित किया जायेगा। इसके अलावा बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ भूकंप से संबंधित आंकड़ा का संग्रह और शोध के लिए एक केंद्र पटना साइंस कॉलेज में स्थापित किये जायेंगे। पटना विविद्यालय और टाटा इंस्टीटय़ूट ऑफ सोशल साइंसेस के बीच एक समझौता हुआ है जिसके अंतर्गत अंग्रेजी विभाग, इतिहास विभाग व भूगोल विभाग मिलकर द रिवर, द टाउन एंड माइग्रेशन को लेकर एक रिसर्च प्रोजेक्ट पर कार्य करेंगे। इसके लिए द जूलॉजिकल सव्रे ऑफ इंडिया सहित अन्य राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर के संस्थानों के साथ एमओयू के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। एक अन्य खबर के अनुसार पटना विविद्यालय कैंपस को पॉलिथीन फ्री जोन घोषित किया गया है। अब कैंपस में किसी तरह का पॉलिथीन नहीं दिखेगा। इस पर नजर रखने के लिए विविद्यालय प्रशासन ने विभागों को जिम्मेवारी सौंपी है। महाविद्यालयों को स्मोक फ्री बनाया गया है। कैंपस में जगह-जगह पर कैंपस को स्वच्छ रखने के लिए संदेश भी लगाये गये हैं। कैंपस को स्वच्छ व सुंदर रखने के लिए प्रॉक्टर की अध्यक्षता में टीम का गठन किया गया है। यह टीम कैंपस का समय-समय पर निरीक्षण करेगी। कैंपस में अब कोई धूम्रपान करते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ दंडानात्मक कार्रवाई की जायेगी।

यह भी पढ़े  सक्रिय हुआ मानसून अभी और होगी बारिश, झमाझम बारिश से शहर के कई इलाकों की सड़कें पूरी तरह डूबीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here