पटना में जल जमाव को लेकर सीएम के साथ हाईलेवल मीटिंग जारी, विभागी मंत्री, अधिकारी और पटना डीएम के साथ आयुक्त भी मौजूद

0
47
PATNA MEIN BARISH SE HUYE JAL-JAMAV SE SAMBANDHIT SAMVAD CM SECRETARIAT MEN AYOJIT BAITHAK KO SAMBODHIT KERTE CM NITISH KUMAR

पटना में हुए भारी जलजमाव को लेकर सोमवार को सीएम नीतीश कुमार समीक्षा बैठक करेंगे. संभावना व्यक्त की जा रही है कि बैठक में पटना में जलनिकासी के नये प्लान को अंतिम रूप दिया जा सकता है, ताकि भविष्य में जलजमाव की समस्या पैदा नहीं हो. जानकारी के अनुसार सीएम की समीक्षा से पहले पांच दिनों से मुख्य सचिव से लेकर नगर विकास व आवास विभाग के प्रधान सचिव स्तर पर नये प्लान की तैयारियों को लेकर लगातार बैठकें की जा रही हैं. विभाग के अलावा नगर निगम, बिहार शहरी आधारभूत संरचना विकास निगम लिमिटेड, बिजली विभाग और अन्य संबंधित लोग भी नये प्लान की तैयारी में लगे हैं. सोमवार को शाम चार बजे के से शुरू होने वाली बैठक के बाद स्थिति स्पष्ट हो जायेगी. यह भी माना जा रहा है कि समीक्षा बैठक में जो अधिकारी व कर्मचारी दोषी पाये जाते हैं, तो उन पर कार्रवाई भी हो सकती है.

यह भी पढ़े  हताश लोग नहीं रोक पाएंगे नमो का कारवां

इन बिंदुओं पर होगी चर्चा

1. पटना में जल जमाव की समस्या क्यूंं हुई?
2. ज़्यादा पानी हुई तो पानी निकासी की व्यवस्था सही ढंग से क्यूंं नहीं की गई?
3. सम्प हाउस समय ठीक तरीक़े से काम क्यूंं नही कर पाया?
4. पटना के बड़े नाले की सफ़ाई का दावा किया गया था तो इसके बावजूद नाला जाम क्यूंं हुआ?
5. पटना का मास्टर प्लान कहां है — बिना मास्टर प्लान के शहर कैसे बढ़ता जा रहा है?
6. पटना नगर निगम का रवैया पूरे घटना में क्या रहा?
7. पटना से जल निकासी का उपाय क्या है — क्या पुनपुन का जल स्तर और गंगा का जल स्तर बढ़ने से भी समस्या हुई?
8. पटना के नालों का नक़्शा कहां है — जल जमाव से निजात के लिए बिना नक़्शा आज तक काम कैसे हुआ?
9. नमामी गंगे योजना की वजह से भी समस्या हुई अगर हुई तो इसका पहले निदान क्यूंं नहीं खोजा गया?
10. आने वाले समय में पटना में जल जमाव और दूसरी समस्या ना हो इसके लिए क्या कुछ उपाय किए जा सकते हैं?
11. स्मार्ट सिटी में चुनाव होने के बावजूद पटना की समस्या कम होने के बजाय बढ़ती क्‍यूं जा रही है?
12. पटना में बड़े नालों पर को कब तक ढका जाएगा ताकि नाले को जाम की समस्या से निजात मिल सके?

यह भी पढ़े  प्रदेश में अब नहीं बिकेगी खुदरा सिगरेट, लगी रोक

गाज गिरना तय
ख़बर यह भी मिल रही है कि पटना के पानी पानी होने ले जिम्मेदार अधिकारियों पर गाज गिरना तय है. सूत्र यह भी बताते हैं कि इसकी तैयारी भी हो चुकी है और वैसे अधिकारियों को चिन्हित भी किया जा चुका है. जल जमाव से जूझ रहे लोगों की नाराज़गी झेल रहे बीजेपी विधायक संजीव चौरसिया भी कहते हैं कि अधिकारियों ने ग़लती की है.

कमेटी का भी हो सकता है गठन
अब नज़रें नीतीश कुमार पर टिक गई हैं कि हाई लेवल बैठक में वो क्या फ़ैसला करते हैं. कहा जा रहा है कि पटना के जल जमाव की जांच पूरी करने के लिए तीन सदस्यीय कमिटी भी बनाई जा सकती है जो कुछ वक़्त लेकर पूरी रिपोर्ट मुख्य मंत्री को दे सकते हैं. इस रिपोर्ट के आने के बाद ही सीएम नीतीश कुमार फ़ैसला कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here