पटना में नये साल के जश्न के लिए कई जगह तैयारी

0
94
ECO PARK ME NEW YEARS KE PUV SANDHYA PER ENJOY KERTE LOG

नये साल के पहले दिन मस्ती और जश्न के लिए कई जगहें आपके इंतेजार में हैं। सोमवार को जिन जगहों पर बंदी रहती है, वे नव वर्ष के अवसर पर खुली रहेंगी। नये वर्ष के अवसर पर पटनावासी नौका विहार का आनंद ले सकते हैं। गांधी घाट से परिचालित होने वाला कौटल्या बोट (छोटी नाव) सुबह दस बजे से शाम पांच बजे तक लोगों को नौका बिहार कराएगा। नाव का परिचालन शाम पांच बजे तक होगा। टिकट की दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है। उसके साथ ही भागीरथी बिहार में स्वादिष्ट व्यंजनों का भी सैलानी आनंद ले सकेंगे। दूसरी ओर दियारा में भी पिकनिक का आंनद ले सकते हैं। दियारा क्षेत्र में भी मेला जैसा माहौल रहने वाला है। नव वर्ष के दिन राजधानी के सभी पार्क खुले रहेंगे। वहीं राजधानी वाटिका (ईको पार्क) भी इस दिन खुला है। मगर नववर्ष के दिन ईको पार्क की टिकट दर में बढ़ोतरी की गई है। इस दिन व्यस्कों के लिए 50 रुपये और बच्चों के लिए 25 रुपये शुल्क निर्धारित किए गए हैं। भीड़ को देखते हुए अतिरिक्त टिकट कॉउन्टर की भी व्यवस्था की गयी है। वहीं सोमवार को बंद रहने वाले सभी पार्क को खुला रखने का निर्देश दिया गया है। बुद्ध स्मृति पार्क और बुद्ध स्मृति संग्रहालय भी इस दिन खुला है। टिकट की दरों में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है। साथ ही गोलघर भी नये साल पर खुला रहेगा। नये साल में लोग पार्क का आनंद ले सकेंगे। जबकि गोलघर पर चढ़ने से वंचित रह जायेंगे। नये साल के जश्न में साथ देने के लिए तारामंडल भी तैयार है। इस दिन तारामंडल खुला है। इस दिन छह शो चलाए जाऐंगे। पहला शो 12 बजे से शुरू होगा, जबकि अंतिम शो का वक्त शाम पांच बजे होगा। सभी शो एक-एक घंटे के होंगे। वहीं टिकट की दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। वहीं मंगलवार को तारामंडल बंद रहेगा।नये साल के जश्न में कोई कमी नहीं रहने वाली है। पटनावासियों का साथ देने के लिए संजय गांधी जैविक उद्यान (जू) भी खुला है। हालांकि टिकट दरों में बदलाव किया गया है। जू घूमने के लिए वयस्कों के लिए 100 रुपये और बच्चों के लिए 50 रुपये निर्धारित किये गए हैं। वहीं भीड़ को ध्यान में रखते हुए शिशु उद्यान, मछली घर, ट्रेन, बोटिंग आदि को बंद रखा गया है। शहरवासियों का नया ठिकाना बना बिहार संग्रहालय भी सोमवार को खुला रहेगा। इसके साथ ही पटना संग्रहालय को भी खुला रखा गया है। साथ ही इन दोनोें जगहों पर टिकट के दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है। दूसरी ओर, साल के अंतिम दिन भी लोगों ने खूब मस्ती की। शहर की तमाम ऐसी जगहों पर लोगों की भीड़ देखने को मिली। पाकरे में अच्छी संख्या में छुट्टी का आनंद लेने लोग पहुंचे। वहीं एक जनवरी को लेकर सभी सैर-सपाटे वाली जगह मेले का रूप ले चुकी हैं।

यह भी पढ़े  खाजेकलां थानेदार व बहादुरपुर की महिला जमादार निलंबित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here