पटना बाढ़: सीएम नीतीश और सुशील मोदी के खिलाफ शिकायत दर्ज,CJM कोर्ट में आज सुनवाई

0
47

बिहार की राजधानी पटना में आई बाढ़ को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है. बिहार हाई कोर्ट के एक वकील ने सीएम, डिप्टी सीएम और 8 अन्य लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. वकील ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष शिकायत की. इसके अलावा मंत्री सुरेश शर्मा, बुडको के मुख्य प्रबंधक अमरेंद्र सिन्हा, प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद समेत नौ लोगों के खिलाफ शिकायत की गई है. हाईकोर्ट के वकील राम संदेश राय ने राजधानी के जलमग्न रहने के मामले में ये शिकायत की है. उन्होंने राजधानी पटना के नौ दिन तक पानी में डूबे रहने की वजह से हत्या और हत्या का प्रयास के सिलसिले में ये शिकायत की है. इस मामले में पटना के पूर्व कमिश्नर आनंद किशोर के खिलाफ भी शिकायत की गई है. वकील राम संदेश राय की शिकायत पर आज यानी शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में सुनवाई होगी.

यह भी पढ़े  राजगीर सफारी का विकास कार्य जल्द पूरा होगा : मोदी

भारी बारिश से बाढ़ में डूब गया था पटना शहर

बता दें कि पिछले दिनों भारी बारिश से राजधानी पटना के ज्यादातर हिस्से 4-6 फीट तक पानी में डूब गए थे. नालों और सीवेज की ठीक से सफाई नहीं होने और संप हाउसों के सुचारु काम नहीं करने के कारण पूरा शहर पानी-पानी हो गया था. बाद में जब बाढ़ का पानी उतरा तो महामारी का खतरा पैदा हो गया. इस वजह से पटनावासियों में नगर निगम और सरकार के खिलाफ अभी भी काफी गुस्सा है.

बिहार के आपदा प्रबंधन विभाग के अनुसार, राज्य में कुल 7.22 लाख परिवार बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. कुल 15 जिलों की 95 ब्लॉक्स की 616 ग्राम पंचायतें सितंबर में हुई भारी बारिश और बाढ़ के कारण बुरी तरह प्रभावित हुई थीं. भारी बारिश और बाढ़ से बिहार में 42 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी.

सरकार कर रही मदद
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सितंबर माह के तीसरे सप्ताह में गंगा नदी के जलस्तर में वृद्धि और चौथे हफ्तेर में अतिवृष्टि की वजह से राज्य के 15 जिलों में बाढ़ से पीड़ित 2,27,650 परिवारों को प्रति परिवार 6000-6000 रुपये का भुगतान किया है.
इस राशि का हस्तांतरण पीएफएमएस के जरिए सीधे लाभार्थियों के खाते (प्रत्यक्ष लाभ अंतरण) में किया जा रहा है, जिसकी सूचना उन्हें एसएमएस के जरिए मिलेगी.

यह भी पढ़े  भारतेंदु जयंती पर साहित्य सम्मेलन में आयोजित हुई नाटय़-साहित्य

7.22 लाख बाढ़ से प्रभावित
प्रथम चरण में राज्य के 15 बाढ़ग्रस्त जिलों के कुल 2 लाख 27 हजार 649 सत्यापित परिवारों के बीच कुल 136 करोड़ 58 लाख 94 हजार रुपये सहायता राशि दी गई. गौरतलब है कि अब तक बाढ़ग्रस्त 15 जिलों के 95 प्रखंडों के अंतर्गत 616 पंचायतों में लगभग 7.22 लाख परिवार बाढ़ से प्रभावित हुए हैं .

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से स्पष्ट तौर पर कहा था कि सभी प्रभावित परिवारों को दीपावली के पहले भुगतान कर दिया जाए, साथ ही सूखे से प्रभावित लोगों को भी इससे पहले भुगतान कर दिया जाए. उन्होंने कहा कि कुछ ऐसे परिवार भी हैं, जिनका खाता नहीं खुला है. लिहाजा उनका भी खाता खुलवाएं और भुगतान कराएं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here