पंचतत्व में विलीन हुए शहीद आशीष कुमार, सात साल के बेटे ने दी मुखाग्नी

0
108

खगड़िया: बिहार के खगड़िया सीमा पर अपराधियों के साथ एनकाउंटर के दौरान शहीद हुए थाना प्रभारी आशीष कुमार का शव आज उनके गांव पहुंचा. शव देखते ही वहां मौजूद हर किसी की आखें नम हो गई. आशीष कुमार का अंतिम दर्शन करने के लिए बड़ी संख्या में भीड़ वहां जमा हो गई.

उनका अंतिम संस्कार पैतृक गांव सहरसा के सरोजा में किया गया. आशीष कुमार को उनके सात साल के बेटे शौर्यवान ने मुखाग्नी दी. इस मौके पर बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन मंत्री दिनेश चंद्र यादव मौजूद थे.

हालांकि जिला प्रसाशन से सिमरीबख्तियारपुर डीएसपी मृदुला कुमारी सहित अन्य पुलिस कर्मी मौजूद थे. जबकि जिला प्रसाशन के आला अधिकारी नदारद दिखे. आपको बता दें कि पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें पसराहा थाना प्रभारी आशीष कुमार शहीद हो गए.

थानाध्यक्ष के साथ गई टीम के एक सिपाही को भी गोली लगी है और फिलहाल घायल सिपाही का भागलपुर में इलाज जारी है. जहां पुलिस बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई है वह एक दुर्गम इलाका है जहां पहुंचना भी काफी मुश्किल होता है. इस घटना के बाद से सरकार पर भी कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. कहा जा रहा है कि आशीष कुमार अगर बुलेट प्रूफ जैकेट में होते तो शायद उनकी जान बच जाती.

यह भी पढ़े  अब आंगनवाड़ी केन्द्र के बच्चों को मिलेंगे ‘‘पोषक सुधा’’ दुग्धचूर्ण

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here