न्यू मार्केट की दर्जन भर दुकानें राख

0
13

रविवार तड़के साढ़े तीन बजे जीपीओ के समीप न्यू मार्केट में आग लगने से तकरीबन डेढ़ दर्जन दुकानें व झोपड़ियां राख हो गयी। आग लगने के पीछे दो तरह की बातें बतायी गयी हैं। एक तरफ लोग जहां खटाल में मच्छर भगाने के लिए पुआल जलाने की बात बता रहे थे तो वहीं पुलिस व अग्निशमनकर्मियों को आग लगने के पीछे शार्टसर्कि ट कारण बताया गया।पुलिस व स्थानीय लोगों के मुताबिक उस वक्त लगभग साढ़े तीन बजे रहे थे। न्यू मार्केट में मुख्य सड़क पर स्थित रजाई व मुर्गा दुकान के पीछे वो क्षेिमें आग लगी थी। स्थानरीय लोगों के मुताबिक बगल में एक खटाल में गाय है। बताया गया है कि वहां मच्छर लगने के कारण खटाल वाले ने पुआल जलाकर धुआं किया था। पुआल में आग लग गयी और कुछ देर में ही आग ने अगल बगल की झोपड़ी के अलावा कबाड़ी दुकानों को अपनी चपेट में ले लिया।ैाग की चपेट में कबाड़ी व होटल के आने के कारण वहां रखे ज्वलनशील पदार्थ के कारर आग ने तुरत बिकराल रूप धारण कर लिया।स्थानीय लोग आग बुझाने का प्रयास कर रहे थे लेकिन जब सफल नही हुए तब पुलिस व अग्निशमन विभाग को मामले की जानकारी दी गयी। कोतवाली पुलिस के मुताबिक जब पुलिस मौके पर पहुंची तो आग की लपटे काफी ऊपर तक निकल रही थी और आग फैलता जा रहा था। मौके पर एक के बाद एक कु ल 14 दमकलों को बुलाया गया। आग इधर उधा फैल कर अन्य झोपड़ी व दुकानों को अपनी चपेट में न ले ले इस कारण चारों ओर से आग पर पानी की बौछार की जा रही थी। इस दौरान कई रसोई गैस सिलेंडर के फ टने से अफरातफरी मच गयी। चारों ओर चीखपुकार मची थी। लोग सामान निकालने का प्रयास छोड़कर अपनी जान बचाने में लगे थे। कबाड़ी दुकानदार रहमत के मुताबिक वे उस वक्त अपने फुलवारी स्थित घर पर थे। स्टाफ दुकान के अंदर था। उसने किसी तरह दरबाजा तोड़ कर जान बचायी। उनके मुताबिक दीपावली के कारण कबाड़ी दुकान में लाखों का कबाड़ी था। उनका सबकुछ राख हो गया। कोतवाली थाने के इंस्पेक्टर रमाशंकर सिंह के मुताबिक आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया गया है। क्षति का ब्यौरा नहीं दिया गया है।

यह भी पढ़े  आम आदमी पार्टी ने पटना में खोला अपना दफ्तर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here