नालंदा में पत्रकार के बेटे की आंखें फोड़ कर हत्या, मारने से पहले अपराधियों ने फोड़ी आंख

0
10

बिहार के नालन्दा में अपराधियों ने हत्या की जघण्य वारदात को अंजाम दिया है. मामला जिले के हरनौत थाना क्षेत्र के हसनपुर गांव का है जहां रविवार की देर शाम एक अखबार के स्थानीय प्रभारीर के इकलौते पुत्र की आंख फोड़कर हत्या कर दी गई.

 जिले के हरनौत थाना क्षेत्र के हसनपुर गांव के समीप बदमाशों ने एक किशोर की आंखें फोड़ कर हत्या कर दी. ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने मृतक के शव को हसनपुर के समीप एक तालाब से बरामद कर लिया है. मृत किशोर बिहारशरीफ के वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष कुमार आर्य का 15 वर्षीय पुत्र चुन्नू कुमार था. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार शव देखने से प्रतीत हो रहा है कि युवक की दोनों आंखें फूटी हुई हैं. ऐसे में आशंका है कि बदमाशों ने किशोर की बेरहमी से हत्या के बाद उसके दोनों आंख को फोड़ दिया है.

सूत्रों के मुताबिक, मृतक मानसिक रूप से कुछ कमजोर था. रोजाना की तरह वह इधर-उधर से टहलने के बाद दोपहर में घर लौटा था. इसके बाद वह दोबारा घर से बाहर किसी काम के लिए निकल गया, लेकिन देर संध्या वह घर नहीं लौटा, तो परिजनों ने उसकी इधर-उधर खोजबीन की, लेकिन उसका पता नहीं चला. इसी दौरान कुछ ग्रामीणों ने तालाब में एक किशोर का शव देखा. इसके बाद यह खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गयी. इसके बाद शव को बाहर निकाला गया, तो उसकी पहचान हसनपुर के चुन्नू के रूप में की गयी. हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है. पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है. शव को पुलिस कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम करने के लिए सदर अस्पताल में भेजने में जुटी है. इधर, घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है. इधर, एसपी नीलेश कुमार ने बताया कि पूरे मामले की छानबीन की जा रही है.

यह भी पढ़े  कुलभूषण केस: हरीश साल्वे बोले- पाकिस्तान के पास नहीं है एक भी विश्वसनीय सबूत, कल फिर होगी सुनवाई

घटना की खबर मिलते ही नालंदा जिला के पत्रकारों में शोक की लहर दौड़ गई. नालंदा जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष ने पुलिस प्रशासन से बदमाशों पर त्वरित कार्रवाई की मांग की है. एसपी निलेश कुमार ने बताया कि घटना की सूचना पुलिस को देर से मिली जिसके बाद मैं स्वयं भी घटनास्थल पर पहुंचा हूं और फिलहाल मामले की जांच कर रहा हूं. बताया जाता है कि पिछले एक महीने से चुन्नू हसनपुर गांव स्थित अपने पैतृक घर में रह रहा था. आश्चर्य यह है कि घटना के खुलासे के घंटे भर बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंच सकी. वारदात के कारणों का अब तक खुलासा नहीं हो सका है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here