नवादा जेल में गूंज रहे छठ के गीत, महिला कैदी कर रहीं व्रत

0
118

लोक आस्था का महापर्व छठ बिहार-उत्तर प्रदेश समेत देश के अन्य हिस्सों में मनाया जा रहा है. इस पर्व की महिमा इतनी अपरंपार है कि लोग चाहे जहां भी हों हर हाल में मनाना चाहते हैं. चाहे वो जेल ही क्यों न हो? नवादा मंडल कारा में बंद तीन महिला कैदियों ने भी छठ पूजा का अनुष्ठान किया है. जिसके लिए प्रशासन ने पूरी तैयारी की है.

जेल के भीतर छठ के गीत से पूरा माहौल भक्तिमय हो गया है. महिला वार्ड में बंद तीनों महिलाओं को अन्य महिला बंदियों के साथ-साथ पुरुष कैदियों का भी भरपूर साथ मिल रहा है.

पुरुष कैदी जेल परिसर के अंदर बने तालाब की सफाई काम में जुट गए हैं. वहीं जेल प्रशासन ने पूजा के लिए तीनों महिलाओं को सारी सुविधाएं मुहैया कराई हैं. लोहंडा के दिन खरना का प्रसाद बनाया गया जिसे पूरे जेल में सभी बंदियों एवं जेल प्रशासन के बीच वितरित किया गया.

यह भी पढ़े  मुख्यमंत्री ने दी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बधाई

जेल उपाधीक्षक रामविलास दास ने बताया कि बेगूसराय की रहने वाली रीता देवी एक महीने पहले एक मामले में जेल आई हैं. जबकि सिरदला के मझौली स्कूल की सचिव चिंता देवी और उनकी सहयोगी जिनका नाम भी चिंता देवी है, ये व्रत कर रही हैं. इन्हीं तीन महिला बंदियों ने छठ व्रत का अनुष्ठान रखा है.

तीनों महिला कैदियों के छठ व्रत किए जाने को लेकर जेल परिसर का माहौल भक्तिमय हो गया है. जहां जेल के सभी वार्डों की सफाई की गई है पुरुष वार्ड में कैदी छठ के गीत गाकर पूरे माहौल में पवित्रता का अहसास करवा रहे हैं. आज शाम को भगवान भास्कर को पहले अर्घ्य की तैयारी भी पूरी कर ली गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here