नवाज़ शरीफ की गिरप्तारी के बाद पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर हिंसा

0
60

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ की गिरप्तारी के बाद पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई है। नवाज़ शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग के कार्यकर्ताओं और पुलिस की भिड़ंत में नवाज शरीफ की पार्टी के करीब 30 कार्यकर्ता घायल हुए हैं। नवाज के समर्थकों के पथराव में करीब 20 पुलिस वाले घायल हुए हैं। पुलिस की कई गाड़ियां भी तोड़ दी गई हैं। हिंसा की वारदातें सबसे ज्यादा पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में हुई हैं। कल रात लाहौर एयरपोर्ट पर गिरफ्तारी के बाद नवाज़ शरीफ और उनकी बेटी मरियम को देर रात अडियाला जेल भेज दिया गया। नवाज़ और उनकी बेटी को हाईप्रोफाइल बी-क्लास की बैरक में रखा गया है।

एयरपोर्ट के अंदर नवाज़ शरीफ और उनकी बेटी की गिरफ्तारी हो रही थी और बाहर हज़ारों की तादाद में उनकी पार्टी कार्यकर्ता हंगामा कर रहे थे। ये हंगामा नवाज़ की गिरफ्तारी के विरोध में था। कोई कार की छत पर खड़ा था, कोई गाड़ी के बोनट पर बैठा था तो कोई अपने हाथों को रस्सी से बांध कर नवाज़ की गिरफ्तारी का विरोध कर रहा था। गिरफ्तारी के बाद सबसे पहले नवाज और मरियम के पासपोर्ट जब्त किर लिए गए और फिर उन्हें रावलपिंडी के अडियाला सेंट्रल जेल ले जाया गया।

यह भी पढ़े  आदिवासियों पर अमेरिकी पर्यटक की हत्‍या का संदेह

नवाज़ और उनकी बेटी को अलग-अलग बख्तरबंद गाड़ियों में जेल लाया गया। नवाज़ और मरियम को पहले हेलीकॉप्टर से जेल ले जाने का प्लान था लेकिन अबूधाबी से प्लेन तीन घंटे लेट पहुंचा था और रात हो जाने की वजह से दोनों को सड़क के रास्ते ही जेल ले जाया गया। जेल के अस्पताल में उनका मेडिकल चेकअप किया गया। ब्लड प्रेशर, शुगर सहित कई तरह की जांच की गई। मेडिकल चेकअप के बाद नवाज़ और मरियम को उनके बैरक अलॉट कर दिए गए। दोनों को बी क्लास की बैरक में रखा गया है।

बी क्लास जेल की एक हाईप्रोफाइल बैरक होती है जो एक कमरे जैसी होती है जिसमें 2 क़ैदी रखे जाते हैं। कमरे के साथ एक लॉबी भी होती है। एक बरामदा होता है जहां टीवी लगा होता है। बी क्लास की बैरक में पांच-छह रुम का ब्लॉक होता है और पूरे ब्लॉक के लिए एक बाथरूम होता है। पाकिस्तान की जेल का बी-ब्लॉक एक VIP बैरक होती है और यहां हाईप्रोफाइल क़ैदियों को रखा जाता है। नवाज़ शरीफ को यहां बैरक में मौजूद कई तरह की सुविधाओं के इस्तेमाल की इजाज़त मिल सकती है।

यह भी पढ़े  श्रीलंका में सियासी संकट जारी : सांसदों ने एक दूसके पर फेंके मिर्ची पाउडर व फर्नीचर

बी-क्लास की बैरक में क़ैदियों के लिए बेड होता है। फ्रीज की भी सुविधा होती है। इस बैरक में फोन और इंटरनेट का भी इंतज़ाम होता है। समय-समय पर मेडिकल टीम सेहत की मॉनिटरिंग करती है और यहां सुरक्षा के भी पुख्ता इंतज़ाम होते हैं। नवाज़ की बेटी मरियम को भी बी-क्लास की बैरक मिली है। महिलाओं वाले बी-क्लास बैरक में बाकी सुविधाएं और इंतज़ाम तो पुरुषों वाली जैल जैसे ही होते हैं लेकिन एक बैरक में एक ही क़ैदी को रखा जाता है।

बी-क्लास की बैरक में VIP इंतज़ाम तो हैं लेकिन नवाज़ शरीफ और उनकी बेटी को कौन-कौन सी सुविधाओं के इस्तेमाल की इजाजत होगी ये अभी कह पाना मुश्किल है। कभी देश के प्रधानमंत्री रहे नवाज़ शरीफ का नया पता अब आडियाला जेल है। यहीं पर उनका ट्रायल होगा और पाकिस्तान का कानून आय से अधिक संपत्ति रखने और लंदन में 4 फ्लैट खरीदने के दोषी करार दिए गए नवाज़ शरीफ के भविष्य का फैसला करेगा।

यह भी पढ़े  भारत दौरे पर पहुंचे मालदीव के राष्ट्रपति, द्विपक्षीय रिश्तों की मजबूती पर होगी बात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here