नवनिर्मित तटबंध टूटने की उच्चस्तरीय जांच हो : तारिक

0
299

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद तारिक अनवर ने कहलगांव के निकट नवनिर्मित तटबंध की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि इस सरकार में सुशासन के नाम पर लूट मची हुई है। सृजन घोटाले में अब तक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर कार्रवाई न होना संदेह पैदा करता है। उन्होंने कहा कि सीबीआई से निष्पक्ष जांच की अपेक्षा नहीं की जा सकती है। आखिर यह जवाबदेही किसकी थी कि सरकारी पैसे का दुरुपयोग रोका जाए। एनसीपी इसकी जांच होर्टकोर्ट के सिटिंग जज के द्वारा चाहती है। पत्रकारों से बात करते हुए श्री अनवर ने बताया कि आज पार्टी के प्रदेश कार्यालय में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक हुई। बैठक में राज्य सरकार से अधूरे चुनावी वायदों, कृषि उपज की कम कीमत, ईधन और परिवहन की समस्याओं, रोजगार के घटते अवसर आदि का मुद्दा उठाया गया।उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमतों को तुरंत युक्तिसंगत करे। केन्द्र सरकार आर्थिक सुधारों के नाम पर हो रही लूट को अविलम्ब बंद करे। केन्द्र की नीति ने तेल क्षेत्र को सरकार के लिए दुधारू गाय बना दिया है। जिस वजह से पिछले तीन वर्षो से इस पर केन्द्र और राज्य सरकारें पेट्रोल डीजल पर जमकर राजस्व कमा रही हैं। पिछले 3 वर्षो में पेट्रोल डीजल उत्पादन शुल्क के जरिये केन्द्र सरकार को मिलने वाला राजस्व लगभग दोगुना हो गया है। उन्होंने कहा कि हाल की भीषण बाढ़ में सीमांचल सहित बिहार के लगभग 13 जिलों के एक करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित हुए। सरकार बाढ़ग्रस्त जिलों को आपदाग्रस्त घोषित करते हुए किसानों के ऋण उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र की तर्ज पर माफ करे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की गलत नीतियों की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ है। देश का सकल घरेलू उत्पाद नीचे की ओर है। निवेश के लिए पूजी का अभाव है, क्योंकि मार्च 2016 के बाद से सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का उद्योग ऋण नकारात्मक रहा है। सिर्फ कुछ निजी बैंक हैं जो उद्योग को कुछ क्रेडिट दे रहे हैं।

यह भी पढ़े  जाति-धर्म के नाम पर बांटने वाले राजनेताओं से बिहार को बचाना है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here