देश की तरक्की के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग जीवन रेखा : गडकरी

0
162

कोशी के पावन भूमि बीपीमण्डल स्टेडियम में कोशी के आम अवाम के गरिमामयी उपस्थिति में भारत सरकार के राष्ट्रीय राजमार्ग भूतल-परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के कर कमलों द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग के 107 महेशखूंट-सहरसा-मधेपुरा लम्वाई 90 किलोमीटर राशि 644,5 करोड़, 527ए और 327ए लम्बाई 39, 144 किलोमीटर राशि 357 करोड़, बकौर-परसरमा-बनगांव-बरियाही सहित 527ए सिंघेश्वर स्थान-भेजा 26 किलोमीटर भेजा-बकौर के बीच कोशी नदी में महासेतु जिसकी 13,3 किलोमीटर लागत लगभग 944 करोड़, सहरसा ओभरब्रिज 300 करोड़ का आधारशिला रखी जाएगी। केंद्रीय मंत्री श्री गडकरी ने कहा कि किसी भी देश की तरक्की और उन्नति के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग जीवन रेखा होता है। आपके लोकप्रिय सांसद पप्पू यादव जी काफी जुझारू है, इनके द्वारा अनवरत मंत्रालय आना और मुझसे मिलकर अक्सर क्षेत्र की विकास के लिए अपनी बात रखना काफी सराहनीय है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण का एक ही लक्ष्य है कि पूरे भारत को राष्ट्रीय राजमार्ग से जोड़ना है। अभी बिहार में कुल मिलाकर 1200 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग हैं। अब इसकी लम्बाई बिहार में 3000 हजार किलोमीटर हो जाएगा जिसमे कई पुल के अलावे बकौर में महासेतु जिसकी लम्बाई 13,3 किलोमीटर है, जो अपने आप मे एक मिसाल हैं। यह सब कार्य आपके लोकप्रिय सांसद का अथक परिश्रम का नतीजा है। वही कार्यक्रम की अध्यक्षता मधेपुरा लोकसभा के सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि कोशी समाजवादियों की धरती रही है। इस धरती पर कोशीवासियों के लिये ऐतिहासिक दिन है। इस पावन भूमि पर आपका हार्दिक अभिनन्दन है, स्वागत है, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पूरे सम्बोधन में 9 बार स्थानीय सांसद पप्पू यादव का नाम लेते हुए कहा कि पप्पू जी और कांग्रेस के सांसद रंजीत रंजन ने कम से कम दो सौ बार मिल कर आज हमको कोशी की पावन भूमि पर मिलने का मौका मिला मै दोनों सांसद को शुभकामना देता हूं कि पुन: लोकसभा के सदन आए और अपने क्षेत्र का इसी जोश से विकास करे सभा को बिहार सरकार के मंत्री बिजेन्द्र यादव, नंदकिशोर यादव, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर सहरसा जिला प्रवक्ता शैलेन्द्र शेखर, मधेपुरा जिला अध्यक्ष मोहन मण्डल आदि मौजूद थे।

 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी दृढ इच्छा शक्ति वाले व्यक्ति है। बिहार के विकास में इनका अहम योगदान है जिसे भुलाया नहीं जा सकता। उक्त बातें बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने स्थानीय राजेन्द्र स्टेडियम में आयोजित विकास योजनाओं के शिलान्यास के अवसर पर सम्बोधित करते हुए कहीं। उपमुख्यमंत्री ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि 1985 से 2014 तक नमामि गंगे योजना पर मात्र 9000 करोड़ खर्च कर सफाई नहीं हो पाया था। लेकिन केन्द्र की मोदी ने सरकार ने चार साल में इस परियोजना पर 20000 करोड़ कर गंगा को स्वच्छता का बढाने का काम किया है। श्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि 15 साल में पिछली सरकार ने सड़कों पर 6000 करोड़ खर्च कर पाया था, एनडीए सरकार ने अपने शासनकाल में सड़कों पर एक लाख 19000 करोड़ खर्च किया है जिसमें कोई घोटाला नहीं हुआ है। सरकार गरीबों का कायाकल्प की ओर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के सुरक्षा के प्रति गंभीर है। देश पर हमला करने वाले आतंकवादी को मुंहतोड़ जवाब देने का काम किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दृढ इच्छा शक्ति की प्रशंसा करते हुए कहा कि सूबे के विकास में पीएम व केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी का अहम योगदान रहा है। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री से आगे भी विकास के लिए बिहार पर अपनी नजर इनायत करने का भी अनुरोध किया। 

यह भी पढ़े  केन्द्र व राज्य की सरकारें मिलकर नए एम्स का समाधान करेंगी : चौबे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here